देहरादून, राज्य ब्यूरो। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए उत्तराखंड सरकार ने बुजुर्गों और बच्चों के लिए एडवायजरी जारी की है। इसके जरिए 65 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों और 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों को 31 मार्च तक घर पर ही रहने की अपील की गई है।

उत्तराखंड में कोरोना वायरस के संदिग्ध लोगों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। प्रदेशभर में अब तक तीन लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, जिसे देखते हुए राज्य सरकार इस वायरस की रोकथाम के लिए युद्ध स्तर पर लगी हुई है। सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य और परिवार कल्याण नीतेश झा ने एडवायजरी जारी करते हुए 65 साल से ज्यादा आयु के बुजुर्गों और 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों को 31 मार्च तक घर पर ही रहने की अपील की गई है।

जारी एडवायजरी में सलाह दी गई है कि मेडिकल प्रोफेशनल और अन्य आवश्यक सेवाओं में कार्यरत व्यक्तियों के अलावा अन्य सभी 65 वर्ष से अधिक आयु के नागरिक 31 मार्च तक घर पर ही रहें। बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण का अधिक प्रभाव बुजुर्गों और छोटे बच्चों में देखने को मिल रहा है। इसे ध्यान में रखते हुए ये एडवायजरी जारी की गई है।

यह हैं कोरोना वायरस के लक्षण 

- कोरोना वायरस से पीडि़त व्यक्ति को सबसे पहले बुखार आता है। 

- बुखार के बाद उसे सूखी खांसी और हफ्तेभर में सांस लेने में तकलीफ महसूस होती है। 

- कोरोना के गंभीर मामलों में निमोनिया, सांस लेने में बेहद तकलीफ, किडनी फेल होना और यहां तक कि मौत भी हो सकती है। 

- कोरोना वायरस उम्रदराज लोगों के साथ अस्थमा, मधुमेह, दिल की बीमारी जैसे रोगों से पीड़ित लोगों के लिए गंभीर खतरा बन सकता है। 

कोरोना का संक्रमण फैलने से कैसे रोकें 

- कोरोना को रोकने के लिए ज्यादा से ज्यादा घर पर रहें। हो सके तो ऑफिस का काम घर से करें। स्कूल या सार्वजनिक जगहों पर बिना किसी काम के न जाएं। 

- सार्वजनिक वाहन जैसे बस, ट्रेन, ऑटो या टैक्सी से यात्रा करने से बचें।

- कोशिश करें कि घर में बिना किसी वजह मेहमानों को न बुलाएं। 

- अपने कमरे, रसोई और बाथरूम को साफ रखें। ऐसा करने से संक्रमण का खतरा कम होगा। 

- स्वच्छता का विशेष खयाल रखें, हाथों को सैनिटाइज करें और बार-बार मुंह पर न लगाएं। 

यह भी पढ़ें: coronavirus: उत्तराखंड में देशी-विदेशी पर्यटकों के आवगमन पर लगी रोक, आदेश जारी

कोरोना के संक्रमण में आने के बाद यह करें 

- लक्षण दिखने पर नजदीकी अस्पताल जाएं और जांच कराएं। 

- लक्षण दिखने पर नजदीकी अस्पताल जाएं और जांच कराएं। 

- डॉक्टरों की सलाह पर कोरोना वायरस में दिखने वाले लक्षणों को कम या ठीक करने वाली दवा दी जा सकती हैं। 

- जब तक संक्रमित व्यक्ति ठीक न हो जाए, तब तक वह दूसरों से दूर रहे। 

यह भी पढ़ें: Coronavirus: बिना डॉक्टर की सलाह के दवा नहीं बेच सकेंगे केमिस्ट

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस