देहरादून, जेएनएन। उत्तराखंड में कांग्रेस पार्टी सरकार की घेराबंदी में जुट गई है। प्रदेशभर में बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कांग्रेस ने कहा कि भाजपा की केंद्र और राज्य सरकार की गलत नीतियों के चलते बेरोजगारी चरम पर है। युवाओं में आक्रोश है। उन्होंने कहा भाजपा सरकारें युवाओं को रोजगार दिलाने में पूरी तरह से असफल रही है। वहीं, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि साढ़े तीन साल के कार्यकाल के बाद भी त्रिवेंद्र सरकार कुंभकर्णी नींद में सोई हुई है।   

कांग्रेस ने शनिवार को प्रदेशभर में राज्य सरकार के खिलाफ हल्ला बोला। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस ने मुख्यालय में धरना दिया। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश की त्रिवेंद्र सरकार जिन मुद्दों पर सत्ता में आई उनकी अनदेखी कर रही है। पिछले साढ़े तीन साल के कार्यकाल के बाद भी सरकार कुंभकर्णी नींद में सोई हुई है। त्रिवेंद्र सरकार को झकझोरने के लिए ही ये धरना आयोजित गया है। उन्होंने कहा कि आर्थिक तंगी से जूझते प्रदेशवासियों को कोराना काल में घर वापसी करने वाले प्रवासी भुखमरी की कगार पर हैं। उनके हित में सरकार के पास कोई योजना नहीं है। सारे विभागों में पद खाली पड़े हैं और प्रदेश के युवा सरकार की तरफ टकटकी लगाए हुए हैं। पर सरकार अबतक उन्हें नौकरी नहीं दे पाई। 

जन विरोधी है भाजपा सरकार 

चमोली के जिलाध्यक्ष(कांग्रेस) बीरेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में प्रदेश की त्रिवेंद्र सरकार की बेरोजगार युवा विरोधी नीतियों,  लगातार बढ़ती बेरोजगारी और पिछले तीन वसाल में किसी भी विभाग के रिक्त पदों पर नियुक्ति न करने के मुद्दों को लेकर जिला मुख्यालय में जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार को जन विरोधी बताया। 

सिर्फ कांग्रेस ही समझती है युवाओं के दुख-दर्द को 

विकासनगर में पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत कांग्रेसियों ने भाजपा सरकार के खिलाफ सड़क पर उतर कर मोर्चा खोला। कांग्रेसियों ने सरकार से रोजगार मामले में श्वेत पत्र जारी करने की मांग की। जौनसार बावर की सीमांत तहसील त्यूणी बाजार में कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष हरीश चंद्र राजगुरु और जिला महामंत्री बलबीर सिंह चौहान के नेतृत्व में बड़ी संख्या में जुटे कांग्रेसियों ने त्रिवेंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ आवाज उठाई।

वहीं, चकराता में ब्लॉक प्रमुख निधि राणा, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अमर सिंह चौहान और कालसी में ब्लॉक अध्यक्ष अजय नेगी के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने रोजगार के मुद्दे पर भाजपा सरकार की घेराबंदी की। कांग्रेस नेताओं ने कहा राज्य में जब से भाजपा की सरकार बनी है गरीब-कमजोर वर्ग के लोगों का जीना मुश्किल हो गया। राज्य में बेरोजगारी का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। सरकार के पास राज्य के नौजवान शिक्षित बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने की कोई नीति नहीं है। जनता को झूठे सपने दिखाकर सत्ता पर काबिज हुई भाजपा सरकार ने लाखों बेरोजगार युवाओं के साथ वादाखिलाफी की है। सरकार हर मोर्चे पर पूरी तरह विफल रही, जिसका खामियाजा प्रदेश की जनता को भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सिर्फ कांग्रेस ही युवाओं के दुख-दर्द को समझती है। 

यह भी पढ़ें: आम आदमी पार्टी के प्रदेश पर्यवेक्षक ने कहा दिल्ली जैसा मॉडल बनेगा उत्तराखंड

त्रिवेंद्र सरकार होश में आओ, युवाओं को रोजगार दो 

विकासनगर के साहिया में भी कांग्रेसियों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने त्रिवेंद्र सरकार होश में आओ, युवाओं को रोजगार दो या इस्तीफा दो के नारे लगाए। इस अवसर पर गोपाल तोमर, बलबीर राठौर, सुरेंद्र चौहान, अमन अरोड़ा, सतपाल भाटी, दयाराम, श्रीचंद शर्मा, अमर सिंह, वीरेंद्र सिंह, श्याम सिंह, मोहन सिंह, रती राम, परम सिंह, चमन सिंह ठीकम सिंह आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे। वहीं, डोईवाला के भानियावाला में बेरोजगारी को लेकर नगर कांग्रेस और यूथ कांग्रेस ने धरना-प्रदर्शन किया। कांग्रेस के नगर अध्यक्ष राजवीर खत्री और यूथ कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मोहित उनियाल ने राज्य सरकार को आड़े हाथ लिया। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में जल्द ही किया जाएगा मंत्रिमंडल विस्तार : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस