राज्य ब्यूरो, देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रदेश में अब सभी भर्तियां निष्पक्ष व पारदर्शी तरीके से होंगी। व्यवस्था ऐसी बनाए जाएगी कि प्रदेश के युवाओं को निष्पक्षता व पारदर्शिता से भर्तियों को लेकर पूरा विश्वास रहे। इसके लिए भर्ती प्रक्रिया राज्य लोक सेवा आयोग या अन्य किसी एजेंसी से कराई जाएंगी। इसके लिए नियमावली बनाई जाएगी। विधानसभा से भी इसी तरह भर्ती कराने का अनुरोध किया जाएगा।

अनियमितता की बात सामने आने से ही सक्र‍िय थी सरकार

शनिवार को मुख्यमंत्री आवास में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि जबसे विधानसभा की भर्तियों में अनियमितता की बात सामने आई, तभी से सरकार इस पर सक्रिय हो गई थी। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिख कर अनुरोध किया था कि सभी भर्तियां निरस्त होनी चाहिए। पहले इसकी जांच होनी चाहिए। जांच के लिए गठित समिति ने जो भर्तियां गलत पाईं हैं, उन्हें निरस्त करने की संस्तुति की गई। मुख्यमंत्री होने के नाते उन्होंने अनुमोदन दे दिया है। उन्होंने कहा कि भविष्य में अब भर्तियों के लिए नियमावली भी बनाई जाएगी।

मातृशक्ति के साथ खड़ी है सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि कि प्रदेश में लंबे समय से मातृ शक्ति को आरक्षण दिया जा रहा था। इस मामले में हाईकोर्ट के निर्णय के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में एसएलपी दायर की जाएगी। साथ में विधानसभा के जरिये महिला आरक्षण को अध्यादेश लाने की भी तैयारी कर ली गई है। सरकार मातृशक्ति के साथ खड़ी है, जहां तक संघर्ष करना पड़ेगा, करेंगे।

Ankita Murder Case : एक्‍स्‍ट्रा सर्विस की डिमांड...मना करने पर हत्‍या और अब पोस्‍टमार्टम पर सवाल.... केस से जुड़ी 10 बड़ी बातें

Edited By: Sumit Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट