देहरादून, जेएनएन। उत्तराखंड में होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करने वाले प्रवासियों को समझाने के बजाये पुलिस अब सीधे मुकदमा दर्ज कर रही है। प्रदेश में अब तक ऐसे 334 प्रवासियों के खिलाफ मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। वहीं, पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने लोगों से अपील की है कि वह होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करने वालों की जानकारी डायल 112 पर दे सकते हैं। उनका नाम गोपनीय रखा जाएगा।

गौरतलब है कि गत दिनों उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अनिल के रतूड़ी ने गैर प्रांतों से आ रहे प्रवासी नागरिकों से अपील की थी कि वह 14 दिन तक अनिवार्य रूप से होम क्वारंटाइन में रहेंगे। साथ ही चेतावनी भी दी थी कि इस नियम का उल्लंघन करने पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी और मुकदमा भी कायम किया जाएगा।

डीजीपी के इस आदेश के बाद भी प्रदेश के मैदानी और पर्वतीय जिलों से इस तरह की शिकायतें आनी जारी रहीं तो पुलिस को सख्त रुख अख्तियार करना पड़ा। दरअसल, होम क्वारंटाइन में रखे गए कई लोग बाजारों में घूम रहे हैं या फिर अपने काम-धंधे में लग जा रहे हैं। 

ऐसे में यदि वह कोरोना संक्रमित हुए तो अन्य लोगों लिए भी खतरा बढ़ सकता है। पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया कि अभी तक होम क्वारंटाइन के उल्लंघन में प्रदेश में 334 व्यक्तियों के खिलाफ 248 अभियोग पंजीकृत किये गए हैं।

लॉकडाउन के उल्लंघन में 558 गिरफ्तार

लॉकडाउन के उल्लंघन में प्रदेश में 30 मुकदमे दर्ज किए ए। जिसमें 558 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया। प्रदेश में अब तक 3375 मुकदमे दर्ज कर 22,391 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एमवी एक्ट के अंतर्गत कुल 47,836 वाहनों के चालान, 7216 वाहन सीज और 2.62 करोड़ रुपये शमन शुल्क वसूला गया।

मास्क न पहनने पर चार  के खिलाफ मुकदमा

डालनवाला थाना पुलिस ने मास्क न पहनने पर चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इंस्पेक्टर मणिभूषण श्रीवास्तव ने बताया कि रेसकोर्स में चार लोग बिना मास्क लगाए पैदल जा रहे थे। उनसे घूमने का कारण पूछा गया तो उन्होंने बताया कि ईवनिंग वॉक के लिए निकले थे, जल्दी में मास्क पहनना भूल गए। इसपर पुलिस ने मेहाल, पुनीत, वैभव और संदीप निवासी रेसकोर्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

मास्क पहने होने पर भी मुकदमा दर्ज करने का आरोप

कोरोना योद्धा के तौर पर काम कर रहे आनंद विला निवासी अमित मित्तल ने पुलिस पर मास्क पहने होने के बावजूद मुकदमा दर्ज करने का आरोप लगाया है। अमित का कहना है कि वह दवाइयों की सप्लाई देने के लिए अपनी दुकान जा रहे थे। 

यह भी पढ़ें: रात में दुकान खोलने पर पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार

इसी दौरान पुलिस ने उन्हें रोका और आराघर चौकी ले गई। कुछ देर बाद उन्हें छोड़ दिया गया। बाद में पता चला कि उनके खिलाफ मास्क न पहने होने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। अमित का कहना है कि घटना के वक्त वह मास्क पहने हुए थे। उन्होंने बताया कि विपरीत परिस्थितियों में भी वह जगह-जगह दवाइयां सप्लाई कर रहे हैं। कई जरूरतमंदों को दवाइयां पहुंचा चुके हैं।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस नेता ने बिना अनुमति क्वारंटाइन सेंटर में प्रवासियों को बांटे केले, मुकदमा दर्ज

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021