देहरादून, राज्य ब्यूरो।  Ayodhya Ram Mandir अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए बुधवार को होने वाले भूमि पूजन व शिलान्यास को लेकर देवभूमि उत्तराखंड में भी जबर्दस्त उत्साह है। मंगलवार से ही इसके लिए जगह-जगह दीपोत्सव की शुरुआत हो गई। बुधवार को भी घरों में दीप रोशन होंगे। इस बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्यवासियों से अपील की कि वे भूमिपूजन व शिलान्यास के अवसर पर घरों में दीपावली मनाएं, दीये रोशन करें।

राम मंदिर निर्माण के लिए चारधाम सहित मठ-मंदिरों से माटी और गंगा-यमुना जैसी नदियों का जल अयोध्या भेजने में  राज्यवासियों ने खूब उत्साह दिखाया। प्रमुख संत-महात्मा अयोध्या रवाना हो चुके हैं। बुधवार को होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन व शिलान्यास के मद्देनजर मंगलवार को राज्य में जगह-जगह दीये जलाए गए। मंदिरों में भी विशेष सजावट की गई है।

इस बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्यवासियों से अपील की कि वे बुधवार को घरों में दीपावली मनाएं। अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि बुधवार को देश के लिए स्वर्णिम अवसर आ रहा है, जब प्रधानमंत्री अयोध्या में भूमि पूजन व शिलापूजन के साथ भव्य राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखेंगे। उन्होंने श्रीराम जन्मभूमि के लिए बलिदान देने वालों का स्मरण भी किया। उन्होंने कहा कि राम मंदिर करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ा है। भगवान राम सनातन संस्कृति, मानवता, नैतिकता, प्रेम व सद्भाव के प्रतीक हैं। यह मंदिर देश व दुनिया में अपनी विशिष्टता के लिए पहचाना जाएगा।

सीएम आवास में रोशन होंगे 5100 दीये

राम मंदिर की आधारशिला रखे जाने की खुशी में बुधवार को मुख्यमंत्री आवास में 5100 घी के दीये रोशन किए जाएंगे। इसके अलावा राज्यभर में भी घरों में लोग दीये जलाएंगे।

दीपोत्सव, सुदरकांड का पाठ व रंगोली

अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखे जाने के अवसर पर यहां प्रदेश भाजपा कार्यालय में दीपोत्सव के साथ ही सुंदरकांड का पाठ व रंगोली जैसे कार्यक्रम होंगे। सुरक्षित शारीरिक दूरी के मानकों का पालन करते हुए आयोजित होने वाले इन कार्यक्रमों में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत अन्य पदाधिकारी मौजूद रहेंगे।

भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं मीडिया प्रभारी डॉ.देवेंद्र भसीन ने उक्त जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पार्टी के प्रांतीय नेतृत्व ने पार्टीजनों के साथ ही जनसामान्य से भी घरों में दीपोत्सव मनाने की अपील की हे। उन्होंने बताया कि प्रदेश कार्यालय में सुबह रंगोली के बाद अयोध्या से भूमिपूजन के सीधे प्रसारण को बड़े पर्दे पर देखा जाएगा। शाम को सुंदरकांड पाठ और सूर्यास्त होने पर दीये रोशन किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि पार्टी के सभी कार्यालयों में भी दीपोत्सव के कार्यक्रम होंगे।

संस्कृति विभाग कराएगा गढ़वाली रामायण पाठ

संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज के निर्देश पर संस्कृति विभाग बुधवार को गढ़वाली रामायण पाठ कराएगा। दूरदर्शन पर शाम साढ़े सात बजे से इसका विशेष प्रसारण भी होगा। संस्कृति मंत्री ने राज्यवासियों से गढ़वाली रामायण का श्रवण करने का आग्रह किया है।

यह भी पढ़ें: Ayodhya Ram Mandir: राम भक्तों ने थाने का घेराव कर मुझे पुलिस से छुड़ाया था : प्रेमचंद्र अग्रवाल

रामलला के पड़ोसी हैं महाराज 

संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज अयोध्या में रामलला के पड़ोसी भी हैं। अयोध्या में जिस स्थान पर राम मंदिर बनने वाला है, उसी से सटी भूमि में महाराज का छोटा आश्रम भी है। महाराज ने कहा कि यह उनका सौभाग्य है कि उनकी भूमि रामलला के मंदिर परिसर के एकदम नजदीक है।

यह भी पढ़ें: Ayodhya Ram Mandir: योगगुरु बाबा रामदेव, सतपाल महाराज और स्वामी चिदानंद अयोध्या रवाना

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021