देहरादून, जेएनएन। भारतीय सैन्य अकादमी ने देश-दुनिया को एक से बढ़कर एक नायाब अफसर दिए हैं। यहां प्रशिक्षण लेने वालों में न केवल देश बल्कि विदेशी कैडेट में शामिल रहते हैं। अकादमी के कड़े प्रशिक्षण व अनुशासन का लोहा मित्र देश भी मान रहे हैं।

साल 1932 में 40 कैडेट्स के साथ अकादमी का सुनहरा सफर शुरू हुआ था। प्रथम बैच में फील्ड मार्शल सैम मानेक शॉ, म्यांमार के सेनाध्यक्ष स्मिथ डन और पाकिस्तान सेनाध्यक्ष मोहम्मद मूसा पास आउट हुए थे। तब से यह संस्थान जांबाज युवा अफसरों की फौज तैयार कर रहा है। खास बात यह कि अकादमी में मित्र देशों के भी कैडेट प्रशिक्षण लेते हैं। अब तक अकादमी 30 मित्र देशों के 2342 युवाओं को प्रशिक्षित कर चुका है। इस बार भी 71 विदेशी कैडेट आइएमए से पास आउट होंगे।

किस देश के कितने कैडेट

  • देश-कैडेट
  • अफगानिस्तान-47
  • भूटान-12
  • श्रीलंका-03
  • तजाकिस्तान-02
  • किर्गिस्तान-02
  • लिसिथो-01
  • नेपाल-01
  • मारीशस-01
  • तंजानिया-01
  • वियतनाम-01

 आधुनिक उपकरणों में  दिखी नौसेना की ताकत

नौसेना दिवस पर राजपुर रोड स्थित राष्ट्रीय जल सर्वेक्षण कार्यालय (एनएचओ) में बुधवार को एट होम कार्यक्रम आयोजित किया गया। चीफ हाइड्रोग्राफर वाइस एडमिरल विनय बधवार ने बतौर मुख्य अतिथि कार्यक्रम में शिरकत की। इस अवसर पर नौसेना के आधुनिक व प्राचीन उपकरणों की प्रदर्शनी भी लगाई गई, जिसके माध्यम से नौसेना के किए जा रहे कार्यों व जल सर्वेक्षण के बारे में बताया गया। मुख्य अतिथि ने इस दौरान 'इंडियन लिस्ट ऑफ रेडियो सिग्नल' के प्रथम संस्करण का विमोचन किया। साथ ही मैरीटाइम सेफ्टी कोऑर्डिनेशन सेंटर की भी शुरूआत की।

मुख्य अतिथि ने कहा कि नौसैनिक समुद्री सीमाओं के सशक्त प्रहरी के तौर पर मुस्तैद हैं। भारतीय नौसेना की क्षमता, दक्षता, कुशलता व शौर्य उसे विश्व की सर्वश्रेष्ठ सेनाओं में अग्रणी रखती हैं। उन्होंने नौसेना के अधिकारियों एवं सैनिकों को नौसेना दिवस पर शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम की शुरूआत राष्ट्रगान से हुई। सेना की बैंड टीम की प्रस्तुति से वातावरण संगीतमय हो गया। इससे पूर्व राष्ट्रीय जल सर्वेक्षण कार्यालय में एक रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया।

यह भी पढ़ें: भारतीय सैन्य अकादमी में जेंटलमैन कैडेट्स को मिला काबिलियत का इनाम

रेडक्रास सोसाइटी व दून अस्पताल के सहयोग आयोजित शिविर में बड़ी संख्या में नौसैनिक व सिविल स्टाफ ने रक्तदान किया। वहीं, क्विज में आर्मी स्कूल प्रथम व सेंट जोजफ्स एकेडमी द्वितीय स्थान पर रहा। इस दौरान नेवी वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन की अध्यक्ष अमृता बधवार, रियर एडमिरल अधीर अरोड़ा, कमोडोर रवि नौटियाल, कैप्टन पीयूष समेत नौसेना के कई सेवारत, सेवानिवृत्त अधिकारी और जवान उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें: राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कॉलेज कैडेटों ने एनडीए में मनवाया लोहा Dehradun News

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस