Move to Jagran APP

UP News: प्रयागराज में जमीन पर कब्जे को लेकर बमबाजी और फायरिंग से मचा हड़कंप, 12 साल का बच्‍चा हुआ घायल

प्रयागराज में ईश्वर शरण डिग्री कालेज के पास एक लाज है। बगल में एक छात्रावास भी है। इसकी जमीन व कमरे पर कब्जे को लेकर लंबे समय से दो गुटों में तनातनी चल रही थी। शनिवार रात ईश्वर शरण डिग्री कालेज के पास दोनों गुट आमने-सामने आ गए। उनमें मारपीट शुरू हो गई। बमबाजी के साथ ही फायरिंग होने लगी। इससे अफरातफरी मच गई।

By Jagran News Edited By: Vivek Shukla Published: Sun, 19 May 2024 08:27 AM (IST)Updated: Sun, 19 May 2024 08:27 AM (IST)
सलोरी में गोली चलने के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस l जागरण

जागरण संवाददाता, प्रयागराज। ईश्वर शरण डिग्री कालेज के पास शनिवार रात जमीन पर कब्जे को लेकर दो गुट भिड़ गए। बीच सड़क उनके बीच बमबाजी, फायरिंग हुई। इसमें तीन राहगीर घायल हो गए, जिसमें 12 वर्षीय बालक भी शामिल है। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले में चार नामजद व कई अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस दो को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

ईश्वर शरण डिग्री कालेज के पास एक लाज है। बगल में एक छात्रावास भी है। इसकी जमीन व कमरे पर कब्जे को लेकर लंबे समय से दो गुटों में तनातनी चल रही थी। शनिवार रात ईश्वर शरण डिग्री कालेज के पास दोनों गुट आमने-सामने आ गए। उनमें मारपीट शुरू हो गई।

बमबाजी के साथ ही फायरिंग होने लगी। इससे अफरातफरी मच गई। तीन लोग लहूलुहान हो गए, जिसमें राज प्रजापति गोली लगने से जख्मी हो गया। जबकि ओम गायत्री नगर निवासी 70 वर्षीय रामआसरे ओझा के पैर व उनके 12 वर्षीय पोते विनायक के सीने में छर्रा लग गया।

इसे भी पढ़ें- आगरा में आग उगल रहा सूरज, कानपुर बना प्रदेश का सबसे गर्म शहर, जानिए आज कैसा रहेगा यूपी का मौसम

वह पोते के साथ बाइक से बाजार जा रहे थे। बमबाजी व फायरिंग के दौरान वह बाइक लेकर गिर गए थे। घटना की सूचना पाकर कर्नलगंज, शिवकुटी व जार्जटाउन पुलिस मौके पर पहुंची। तीनों को बेली अस्पताल ले जाया गया, जहां राज की हालत गंभीर देख डाक्टरों ने उसे एसआरएन अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।

इसे भी पढ़ें- रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने की पीएम मोदी की तारीफ, बोले- उनका नेतृत्व अद्भुत है

बताया जाता है कि जौनपुर का रहने वाला राज यहां बोतल बंद पानी बेचने का काम करता है। छानबीन में पुलिस को पता चला कि घटना के बाद दो गुटों में शामिल हमलावर लाज व छात्रावास की तरफ भागे हैं, जिस पर पुलिस ने दोनों स्थानों पर तलाशी अभियान चलाया। संदेह के आधार पर दो को पकड़ा गया।

इंस्पेक्टर कर्नलगंज पीके सिंह का कहना है कि चार को नामजद करते हुए कई अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। एक-एक बिंदु की जांच हो रही है और हमलावरों की तलाश में दबिश भी दी जा रही है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.