Move to Jagran APP

BKU Rakesh Tikait ने इशारों-इशारों में मोदी सरकार पर साधा निशाना, बताया- क्यों अपेक्षा के अनुरूप नहीं लड़ रहा विपक्ष

BKU Rakesh Tikait जौनपुर के जिलाध्यक्ष की मां के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए जाते समय राकेश (Rakesh Tikait) कुछ समय के लिए प्रीतमनगर स्थित एक गेस्ट हाउस में रुके। वहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जैसे समुद्र शांत होता है लेकिन उसकी गहराई की थाह नहीं मिलती वैसे ही जनता आज साइलेंट है लेकिन हर वर्ग के लोगों में सरकार के खिलाफ गुस्सा व्याप्त है।

By Jagran News Edited By: Nitesh Srivastava Published: Tue, 28 May 2024 07:57 PM (IST)Updated: Tue, 28 May 2024 07:57 PM (IST)
BKU Rakesh Tikait: इशारों-इशारों में मोदी सरकार पर साधा निशाना

BKU Rakesh Tikait: जागरण संवाददाता, प्रयागराज। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने इशारों-इशारों में केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। कहा कि सत्ता में बेईमान लोग बैठे हैं, वो सत्ता किसी भी कीमत पर छोड़ना नहीं चाहते। ऐसे लोग चुनाव जीतने के लिए बेईमानी कराएंगे। विपक्ष उनके सामने कमजोर है, इसलिए अपेक्षा के अनुरूप नहीं लड़ पा रहा है।

जौनपुर के जिलाध्यक्ष शैलेश वर्मा की मां के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए जाते समय राकेश (Rakesh Tikait) कुछ समय के लिए प्रीतमनगर स्थित एक गेस्ट हाउस में रुके। वहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जैसे समुद्र शांत होता है, लेकिन उसकी गहराई की थाह नहीं मिलती, वैसे ही जनता आज साइलेंट है, लेकिन हर वर्ग के लोगों में सरकार के खिलाफ गुस्सा व्याप्त है। उसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। ये गुस्सा विस्फोट करेगा। यह स्थिति पश्चिमी उत्तर प्रदेश सहित देशभर की है।

उन्होंने कहा कि केंद्र में चाहे जिसकी सरकार बने। हम किसानों के मुद्दों को मुखरता से उठाते रहेंगे। किसानों की कर्जमाफी, एमएसपी सहित किसानों के कई मुद्दों पर संघर्ष किया जाएगा। इसके लिए 16, 17 व 18 जून को भारतीय किसान यूनियन (Bhartiya Kisan Union) का हरिद्वार में राष्ट्रीय अधिवेशन होगा। वहां पारित प्रस्ताव के अनुरूप आगे का संघर्ष किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: किसान आंदोलन की धुरी रहे राकेश टिकैत ने आंदोलन को बताया राजनीति से अलग, पढ़ें Interview

यह भी पढ़ें: भगवा रंग की पगड़ी पहन राकेश टिकैत ने किसानों से की अपील, जानिए लोकसभा चुनाव में किस तरफ है भाकियू?


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.