नई दिल्ली/ग्रेटर नोएडा, जागरण संवाददाता। दिल्ली-एनसीआर के दूसरे और देश के सबसे बड़े नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास सितंबर के पहले सप्ताह में हो सकता है। केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश से उन परियोजनाओं की जानकारी मांगी थी, जो शिलान्यास या लोकार्पण के लिए तैयार हैं। प्रदेश सरकार की ओर से भेजी सूची में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट शामिल है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अगले माह गौतमबुद्ध नगर का दौरा कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के शिलान्यास के बाबत यह दौर करेंगे, जिसमें परियोजना का पूरा ब्योरा भी देखेंगे।

विधानसभा चुनाव को लेकर अगले कुछ माह गौतमबुद्ध नगर में वीवीआइपी की गहमागहमी रहेगी। जिले में कई परियोजनाएं हैं, जिनका शिलान्यास होना है। इसमें सबसे प्रमुख नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट है। इसके साथ ही प्रदेश सरकार अपने स्तर से मेडिकल डिवाइस पार्क भी विकसित करने जा रही है। इनके शिलान्यास के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गौतमबुद्ध नगर आएंगे।

सितंबर में हो सकता है एयरपोर्ट का शिलान्यास

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पहले चरण का निर्माण कार्य जल्द से जल्द शुरू कराने के लिए अधिकारी जुटे हैं। अधिगृहीत जमीन से ग्रामीणों के विस्थापन का कार्य तकरीबन पूरा हो चुका है। नागरिक उड्डयन विभाग ने अधिगृहीत जमीन नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड नियाल को लीज भी कर दी है। सितंबर के पहले सप्ताह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एयरपोर्ट का शिलान्यास कर सकते हैं। इसकी तारीख की घोषणा जल्द होने की उम्मीद है।

सीएम योगी आदित्यनाथ का भी होगा दौरा

सीएम योगी आदित्यनाथ भी गौतमबुद्ध नगर का दौरा कर सकते हैं। नोएडा एयरपोर्ट के शिलान्यास की तैयारी का जायजा लेने के अलावा वह प्राधिकरण की परियोजनाओं का भी शिलान्यास कर सकते हैं। मेडिकल डिवाइस पार्क का शिलान्यास भी जल्द होने की संभावना है। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए प्रदेश सरकार मेडिकल डिवाइस पार्क को जल्द से जल्द आगे बढ़ाना चाहती है, जहां चिकित्सकीय उपकरण बनाने वाली इकाइयां स्थापित होंगी। इसके अलावा टॉय पार्क का शिलान्यास भी जल्द हो सकता है।

यह भी पढ़ेंः कोरोना काल में पैसे की तंगी झेल रहे कलाकारों के लिए झलका अक्षय कुमार का दर्द, दिए 50 लाख रुपये