मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। मंडल के रामपुर में पूर्व मंत्री नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां ने जिलाधिकारी रविंद्र कुमार मादड़ को भेजे पत्र में कहा है कि उनके संज्ञान में आया है कि रामपुर के सैकड़ों लोगों को गुंडा एक्ट 1970 के अंतर्गत नोटिस जारी किए गए हैं, जिनमें अधिकतर पिछले वर्ष एनआरसी सीएए प्रदर्शन की कथित मामले में नामज़द अथवा अज्ञात किए गए लोग हैं। इसके अतिरिक्त बहुत बड़ी तादाद ऐसे लोगों की है जिन पर मात्र एक या दो मुकदमे दर्शाए गए हैं। इन एक या दो मुकदमो में भी धारा 25 आर्म्स एक्ट अथवा एनआरसी श्रेणी के मुकदमे दर्शाए गए हैं। इनमें बहुत से लोगों को राजनीतिक रंजिश के बिना पर पूर्वाग्रह से ग्रस्त होकर नोटिस दिए गए हैं।

पत्र में ल‍िखा है क‍ि यदि कोई व्यक्ति आपराधिक प्रवृत्ति का है और उस पर अनगिनत मुकदमे हैं और क्षेत्र में उसका आतंकवाद व भय बना हुआ है। ऐसे व्यक्तियों के संबंध में हमें कुछ नहीं कहना है, लेकिन ऐसे लोग जो अच्छी छवि के हैं उनका चरित्र अच्छा है और क्षेत्र में उनकी वजह से कहीं कोई आतंकवाद व भय का माहौल नहीं है। उनसे क्षेत्र के किसी व्यक्ति को किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है। उन पर एक या दो मुकदमों के आधार पर गुंडा एक्ट के तहत नोटिस जारी कर कार्रवाई प्रारंभ की दी गई है। ऐसे लोगों के संबंध में आग्रह है कि उनके साथ न्यायसंगत कार्रवाई करते हुए उनके खिलाफ नोटिस जारी कर निरस्त किए जाना उचित होगा। एनआरसी में बहुत सारे बेगुनाह लोगों के नाम भी शामिल हैं, जिनका इस घटना से कोई लेना देना नही है। हमारी मांग है कि ऐसे लोगों पर गुंडा एक्ट की कार्रवाई न की जाए।

यह भी पढ़ें :-

घर में सोते समय पत्‍नी की हत्‍या, थाने पहुंचकर बोला पत‍ि-र‍िश्‍तेदार से अवैध संबंध थे, इसल‍िए मार डाला

Edited By: Narendra Kumar