लखीमपुर : खीरी संसदीय क्षेत्र के पांच विधानसभाओं पलिया, निघासन, गोलागोकर्णनाथ, श्रीनगर और लखीमपुर में मतदान के बाद ईवीएम और वीवीपैट को राजापुर मंडी में त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था के बीच स्ट्रांग रूम में रखवा दिया गया। साथ ही सीसीटीवी से भी स्ट्रांग रूम की निगरानी कराई जा रही है। अधिकारियों के मुताबिक, त्रिस्तरीय सुरक्षा में प्रथम स्तर में एक कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स जिसमें 44 जवान, दूसरे स्तर में एक कंपनी पीएससी जिसमें 134 जवान तथा तृतीय स्तर पर पुलिस लगाई गई है। जिसमें 60 सिपाही, नौ दरोगा तथा दो इंस्पेक्टर शामिल हैं। पैरामिलिट्री फोर्स की जिम्मेदारी है कि वह किसी को भी स्ट्रांग रूम तक नहीं जाने देगी। वहीं पीएससी जवानों को ईवीएम सुरक्षा के साथ ही आने वाले लोगों से पूछताछ करने और संतुष्ट होने पर ही आगे जाने के निर्देश दिए गए हैं। पुलिस के कंधों पर बाहरी सुरक्षा की जिम्मेदारी है। राजापुर पहुंचने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों से पूछताछ कर संतुष्ट होने के बाद ही संबंधित को आगे जाने देने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा एसडीएम और सीओ सिटी को भी समय-समय पर निरीक्षण करने का निर्देश जारी किया गया है। अधिकारियों की मानें तो इंस्पेटकर कोतवाली दिन में तीन बार राजापुर मंडी जाकर सुरक्षा व्यवस्था देखेंगे। एसपी ने सीओ सिटी को दिन में दो बार निरीक्षण करने को कहा है। जबकि संबंधित चौकी इंचार्ज और पुलिस के दिवसाधिकारी को हर तीन घंटे पर ईवीएम की सुरक्षा व्यवस्था जांचने को कहा गया है। नियमानुसार डीएम-एसपी के अलावा लोकसभा का प्रत्याशी या उसका प्रतिनिधि भी ईवीएम सुरक्षा की जानकारी ले सकता है।

तीन बजे रात तक जमा होती रही ईवीएम

सोमवार को शाम छह बजे मतदान समाप्त होने के बाद पोलिग पार्टियां देर रात तक राजापुर मंडी पहुंचकर ईवीएम जमा कराती रहीं। धौरहरा कस्बे में तीन मतदान केंद्रों के 18 पोलिग बूथों पर मतदान के बाद पोलिग पार्टियां राज साढ़े नौ बजे तक पहुंचीं। जवाहर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नकहा में छह बजे तक मतदाताओं की लंबी लाइन लगी रही, जिसके कारण मतदान सवा सात बजे तक चला। यहां की पोलिग पार्टी रात 10 बजे के बाद राजापुर मंडी पहुंचीं। इसी तरह पलिया विधानसभा क्षेत्र के पलिया, गौरीफंटा, बेलापरसुआ, चंदनचौकी, संपूर्णानगर, निघासन क्षेत्र के तिकुनियां, सिगाही, रमियाबेहड़ समेत तमाम दूरदराज इलाकों की पोलिग पार्टियां रात 12 बजे तक पहुंचती रहीं। पांच विधानसभा क्षेत्रों की कुल करीब 1900 पोलिग पार्टियों के पहुंचने के कारण राजापुर मंडी में अफरा-तफरी का माहौल रहा। पीठासीन अधिकारियों को दस्तावेज जमा करने में दो से तीन घंटे का समय लगा। जिसके कारण देर होती रही।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021