कानपुर, जेएनएन।[coronavirus Janta Curfew] कोरोना वायरस से बचाव के लिए जनता कर्फ्यू का असर परिवहन पर भी दिखाई दिया। ट्रेनों का संचालन बंद होने से सेंट्रल रेवले स्टेशन पर वीरानी छायी रही, वहीं बसें नहीं चलने से झकरकटी बस अड्डे पर चहल पहल नहीं रही। कानपुर सेंट्रल स्टेशन के इतिहास में शायद पहली बार ऐसा नजारा देखने को मिला, जब किसी भी पटरी पर ट्रेन नजर नहीं आई। 

जनता कर्फ्यू के चलते शहर में सन्नाटा छाया रहा, वहीं सेंट्रल स्टेशन पर भोर पहर ट्रेनों के गुजर जाने के बाद कोई भी ट्रेन नहीं आई। सभी प्लेटफार्म खाली पड़े रहे और पटिरयों पर सन्नाटा रहा। स्टेशन के इतिहास में पहली बार ऐसा नजारा देखने को मिल रहा है, जब न तो यात्रियों की भीड़ है और न ही ट्रेनों का अवागमन हो रहा है। पटिरयां सन्नाटे में डूबी हैं और स्टेशन के बाहर पार्किंग भी खाली पड़ी है। ऐसा ही हाल झकरकटी बस अड्डे पर भी रहा, यहां पर बसों के न आने से यात्रियों की चहल पहल नहीं रही। कुछ लोग पहुंचे लेकिन बसें न मिलने से मायूस बैठे रहे। बस अड्डा खाली पड़ा रहा और बसें खड़ी रहीं।

रेलवे प्रशासन ने शनिवार को संगम एक्सप्रेस समेत 14 ट्रेनें निरस्त कर दीं थी, ये ट्रेनें रविवार को नहीं चलीं। उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अमित मालवीय ने बताया कि प्रयागराज होकर जाने वाली कानपुर चित्रकूट इंटरसिटी, बांदा होकर जाने वाली कानपुर चित्रकूट धाम पैसेंजर ट्रेन, कानपुर-आनंद विहार एक्सप्रेस साप्ताहिक, संगम एक्सप्रेस, बलिया-आनंद विहार एक्सप्रस, कानपुर प्रतापगढ़ इंटरसिटी एक्सप्रस रांगम एक्सप्रस, कानपुर-प्रयागराज, कानपुर चित्रकूट धाम पैसेंजर ट्रेन, कानपुर-आनंद विहार एक्सप्रेस साप्ताहिक, संगम एक्सप्रेस, बलिया-आनंद विहार एक्सप्रेस, कानपुर प्रतापगढ़ इंटरसिटी एक्सप्रेस, संगम एक्सप्रेस (लिंक), कानपुर-प्रयागराज अनवरगंज एक्सप्रेस, कानपुर कासगंज अनवरगंज फैजाबाद एक्सप्रेस, कानपुर-अनवरगंज-स्पेशल, ग्वालियर बरौनी छपरा मेल, कानपुर से भिवानी के लिए चलने वाली कालिंदी एक्सप्रेस व प्रयोगराज से नई दिल्ली के बीच चलने वाली टून 12417 रविवार को निरस्त रहेगी।

यह भी पढ़ें : कोरोना वायरस से जंग में घराें से बाहर नहीं निकले लोग, सड़कों पर पसरा सन्नाटा

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस