जागरण संवाददाता, जौनपुर: सपा के दिग्गज नेता और उर्जा राज्यमंत्री शैलेंद्र यादव ललई ने आखिरकार चौथी बार फतह हासिल कर अपना जलवा कायम कर लिया। मुख्यमंत्री के करीबी और उर्जा राज्यमंत्री के रूप में अपनी धाक रखने वाले ललई मतगणना के दौरान पहले तो पीछे चल रहे थे। लगातार 8 राउंड पीछे चलते रहे। एक बार तो यह लगा कि लड़ाई बसपा के ओम प्रकाश ¨सह और भासपा के राणा अजीत ¨सह तक ही सिमट जाएगी ¨कतु 13वें राउंड में 26625 वोट लेकर वे तीसरे से दूसरे स्थान पर आ गए। फिर उनकी स्थिति स्थिर बनी रही। 21वें राउंड के बाद वे मामूली बढ़त पर आगे बढ़े तो लगातार बढ़ते ही रहे। हालांकि राणा उनके पीछे ही लगे रहे ¨कतु 24वें राउंड से ललई निर्णायक बढ़त लेने लगे। इसके बाद सभी तीन राउंड में उन्हें ही ज्यादा मत मिले और 67818 मत पाकर उन्होंने राणा अजीत ¨सह को परास्त कर दिया। राणा को 58656 मत मिले। बसपा के ओपी ¨सह 51176 मत तक जा सके।

यहां खास बात यह रही कि शुरुआती चक्रों में दूसरे उम्मीदवारों द्वारा उनके मतों में सेंधमारी करने से कुछ देर तक सफर धीमा रहा। लेकिन कुल मिलाकर मतगणना पूरी होने तक चौकाने वाला परिणाम दिया। वर्ष 2002 से बसपा के टिकट पर जीत कर राजनीति की पारी शुरू करने वाले ललई यादव अब सियासी खेल के चतुर खिलाड़ी बन चुके हैं। वे 2002 में बसपा से जीतने के बाद 2004 में सपा सरकार में मंत्री बने। इसके बाद 2007 में खुटहन से सपा फिर 2012 में शाहगंज से विधायक चुने गए और अब एक बार फिर अपने को दिग्गज के रूप में साबित कर दिखाया।

Posted By: Jagran