गाजियाबाद [अभिषेक सिंह]। Muradnagar Roof Collapse Incident: उखलारसी गांव की दयानन्द कॉलोनी में रहने वाले मुकेश सोनी के 22 वर्षीय बेटे दिग्विजय सोनी की अंत्येष्टि स्थल की गैलरी की छत गिरने से मौत हो गयी है। स्वजन ने दिग्विजय के शव का अंतिम संस्कार सोमवार सुबह कर दिया है, लेकिन दिग्विजय भुलाए नहीं भूलता।

पिता मुकेश सोनी बताते हैं कि होनहार दिग्विजय 12वी के बाद ही ट्यूशन पढाने लगा था। इस साल ही उसने बीएससी की पढ़ाई पूरी की थी और उत्तर प्रदेश पुलिस में दारोगा बनने की तैयारी कर रहा था। इन दिनों ऑनलाइन पढाई कर रहा था। रविवार को जयराम की मौत हुई तो अपने दोस्त के साथ अंत्येष्टि स्थल गया था, लेकिन वहां से वापस जिंदा घर नहीं आ सका। मलबे में दबे दिग्विजय को एमएमजी अस्पताल ले जाया गया था, जहां चिकित्सक ने उसको मृत घोषित कर दिया । इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। आज सुबह दिग्विजय का शव परिवार के सुपुर्द किया गया। मुकेश सोनी के परिवार में पत्नी निधि, बेटी प्रियंका सोनी और बेटा मयंक सोनी है। सबका रो- रोकर बुरा हाल है।

हादसे के बाद पता चला कि दिग्विजय भी मलबे में दबा है

मुकेश सोनी ने बताते हैं कि वह हादसे के वक़्त घर पर पहली मंजिल पर बने कमरे में थे। हादसे के बाद बेटी प्रियंका ने आकर हादसे की जानकारी दी। उसने बताया कि अंत्येष्टि स्थल पर दिग्विजय भी गया है। इसके बाद दिग्विजय को ढूंढ़ने के लिए वह अंत्येष्टि स्थल गए। मलबे से दिग्विजय को स्थानीय लोगों की मदद से बाहर निकाला और एमएमजी अस्पताल ले गए थे। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021