गाजियाबाद, जागरण संवाददाता। दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर जिले में भी संक्रमण फैलने की आशंका को देखते हुए जिला प्रशासन सतर्क है। इसके तहत नई-नई कार्ययोजना बनाकर संक्रमण रोकने की दिशा में काम हो रहा है। अब कोरोना संक्रमण से जंग में 10 ड्रोन कैमरे शामिल किए गए हैं। जिलाधिकारी अजयशंकर पांडेय के निर्देश पर इन सभी ड्रोन कैमरों का प्रशासन ने पंजीकरण कर लिया है।

इन कैमरों की मदद से प्रशासन कोरोना प्रोटोकाल का उल्लंघन करने वालों को चिह्नित कर उनके खिलाफ कार्रवाई करेगा। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने बताया कि कोरोना के संक्रमण के बढ़ने की आशंका को देखते हुए जिले में पोस्ट फेस्टिवल स्ट्रेटजी लागू की गई है। इसके तहत प्रशासन लगातार कार्रवाई कर रहा है। कोरोना विरोधी दल में 10 ड्रोन कैमरे शामिल किए गए हैं।

इस कार्ययोजना का नोडल अधिकारी एडीएम सिटी शैलेंद्र कुमार सिंह को बनाया गया है। 10 कैमरों का अधिग्रहण प्रथम चरण में किया गया है। अगले चरणों में इसकी संख्या बढ़ाई जाएगी। यह 10 ड्रोन कैमरे जिले के अत्याधिक भीड़-भाड़ वाले जगहों में सक्रिय रहेंगे। यहां कोविड-19 का उल्लंघन करने वालों पर निगाह रखी जाएगी। जिलाधिकारी ने बताया कि ड्रोन कैमरों से नजर रखने के लिए एकीकृत कोविड नियंत्रण कक्ष में अलग से एक ¨वग स्थापित कराई जा रही है।

यहां डायरेक्ट लाइन कनेक्शन की व्यवस्था है। इसके तहत नियंत्रण कक्ष में एक बड़ी स्क्रीन लगेगी। यहां ड्रोन कैमरों के साक्ष्य को सुरक्षित रखा जाएगा। जहां मास्क न लगाने की अधिक शिकायते आएंगी, वहां पर भी ड्रोन से निगरानी रखी जाएगी। इसके साथ ही कोविड-19 के प्रोटोकाल का उल्लंघन होने पर संबंधित थाने की जवाबदेही तय होगी। जिस बाजार में कोरोना प्रोटोकाल के उल्लंघन के मामले अधिक मिलेंगे, उस बाजार के व्यापार मंडल का उत्तरदायित्व तय होगा। इसके तहत क्षेत्र की दुकानों को बंद करने के साथ-साथ महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई होगी। इसके लिए संबंधित तहसीलों के एसडीएम को कार्रवाई के लिए अधिकृत किया गया है।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021