चित्रकूट, जागरण संवाददाता : जगद्गुरु रामभद्राचार्य विकलांग विश्वविद्यालय के पंचम दीक्षांत समारोह में 14 विद्यार्थियों को स्वर्ण और दो को कुलाधिपति पदक व दो को पीएचडी उपाधि दी गई। इसके अलावा तीन सौ विद्यार्थियों को अन्य उपाधि भी बांटी गई। इस दौरान कुलाधिपति स्वामी रामभद्राचार्य को पूर्वांचल रत्‍‌न से सम्मानित किया गया। समारोह में आए राज्य मंत्री द्वय विजय मिश्र व विजय बहादुर पाल ने अपनी ओर से विश्वविद्यालय को पांच-पांच लाख की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की।

उपाधि बांटते हुए अतिरिक्त ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) विजय मिश्र ने कहा कि विवि व विकलांगों की जो भी समस्याएं हैं उनका समाधान सरकार करेगी। माध्यमिक शिक्षा राज्य मंत्री विजय बहादुर पाल ने कहा कि चित्रकूट देवभूमि, तपोभूमि व ज्ञान की भूमि है ऐसी पुण्य भूमि पर ही विकलांगों की सेवा हो सकती है। विकलांगों की सेवा परमात्मा की सेवा है। कुलाधिपति स्वामी रामभद्राचार्य ने कहा कि सरकार यदि सहायता करे तो विकलांग विश्वविद्यालय को दुनिया के सर्वोच्च दो सौ विवि की पहली कतार में खड़ा कर देंगे। कुलपति प्रो. बी पांडेय ने स्वागत भाषण से सभी अतिथियों का अभिवादन किया। इसके पहले दीक्षांत परेड निकाली गई। जिसमें अतिथियों के साथ विकलांग बच्चों ने भाग लिया।

इस मौके पर कुलसचिव डा. लक्ष्मीकांत पांडेय, डा. अवनीश मिश्र, डा. योगेश दुबे, प्रो. आर्या प्रसाद, उमाशंकर पाण्डेय, सपा लोहिया वाहिनी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष निर्भय सिंह पटेल, पूर्व विधायक दिनेश प्रसाद मिश्रा, चंद्र प्रकाश शर्मा, डीआरआई के प्रधान सचिव डा. भरत पाठक, अपर पुलिस अधीक्षक आरडी चौरसिया, उप जिलाधिकारी अभयराज, सीओ सुरेशचंद्र रावत, पंकज अग्रवाल, आनंद प्रताप सिंह, बद्री विशाल त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।

स्वर्ण, रजत व कांस्य पदक पाने वाले

विद्यार्थी विषय पदक

----------------------------

हफीसुल्लाह एमबीए स्वर्ण

जितेंद्र कुमार एमएसडब्लू स्वर्ण

लाल सिंह एमए अंग्रेजी स्वर्ण

पीयूष द्विवेदी एमए हिंदी स्वर्ण

अमित सिंह एमए इतिहास स्वर्ण

अरुण कुमार एमए संस्कृत स्वर्ण

कल्पना साहू एमए संगीत स्वर्ण

राजेश कुमार एमए समाजशास्त्र स्वर्ण

मंतोष यादव बीएफए स्वर्ण

शिल्पी सिंह बीएड स्वर्ण

पंकज कुमार बीएड विशेष स्वर्ण

प्रतिमा चौहान बीएड विशेष स्वर्ण

भगवानदीन बीए स्वर्ण

अरुण कुमार बीसीए स्वर्ण

धर्र्मेद्र कुमार बीबीए स्वर्ण

हेमराज सिंह बीम्यूज कांस्य

किरन भारद्वाज बीएफए रजत

संतोष कुमार पीजीडीआईटी रजत

---------------------------

पीएचडी की उपाधि

विवि की ओर से डाक्टर आफ फिलॉसफी की उपाधि संस्कृत में अनिल कुमार गौतम व हिंदी में बबली सिंह को दी गई।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर