प्रयागराज, जेएनएन। बरेली के बिथरी चैनपुर से भारतीय जनता पार्टी के विधायक राजेश मिश्र की बेटी की याचिका पर इलाहाबाद हाई कोर्ट में अब 15 जुलाई को सुनवाई होगी। दलित युवक से प्रेम विवाह करने वाली विधायक की पुत्री ने सुरक्षा दिलाने की मांग को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट में आज एक याचिका दाखिल की थी। जिसको स्वीकार करने के बाद कोर्ट ने 15 जुलाई को सुनवाई का निर्णय लिया है।

विधायक की पुत्री साक्षी की याचिका पर जस्टिस वाईके श्रीवास्तव की एकल पीठ में सुनवाई हुई। बरेली के भाजपा विधायक राजेश मिश्र की बेटी साक्षी ने अपना वीडियो कल सोशल मीडिया पर वायरल करने के बाद आज इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की। इस याचिका पर कोर्ट में 15 जुलाई को फिर से सुनवाई होगी।

यह भी पढें: दलित युवक से शादी करने वाली BJP विधायक की बेटी को जान का खतरा, Video Viral

साक्षी ने इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर सुरक्षा की गुहार लगायी है। साक्षी ने अपने तथा पति की जान को पिता व परिवार के दूसरे लोगों से खतरा बताया है। साक्षी ने अपनी अर्जी में खुद को बालिग बताने के साथ अपनी मर्जी से दलित युवक से शादी की बात कही है। साक्षी का आरोप उसके विधायक पिता व परिवार के दूसरे लोग इस शादी का विरोध कर रहे हैं।

याची ने अपनी व पति की हत्या की आशंका जतायी है। कोर्ट से अपने व पति के लिए सुरक्षा मुहैया कराए जाने की मांग की है। इस अर्जी में साक्षी ने बरेली पुलिस पर विधायक पिता के दबाव में काम करने का आरोप लगाया है। विधायक राजेश मिश्रा की पुत्री दो जुलाई से उनके आवास, आशियाना कॉलोनी से गायब है। इस दौरान चार जुलाई को प्रयागराज में साक्षी ने अजितेश से मंदिर में विवाह किया। नौ जुलाई को एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें उसने अजितेश नामक युवक से प्रेम विवाह करने और उनकी जान को पिता से खतरा होने की बात कही थी।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस