प्रयागराज, जागरण संवाददाता। गरीब बेटियों की शादी के लिए प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत कौड़िगार औऱ होलागढ़ विकास खंड परिसर में सामूहिक विवाह कार्यक्रम आयोजित किया गया। होलागढ़ में 28 जोड़े जबकि कौडि़हार में 19 जोड़े शादी के बंधन में बंधे। कोरोना महामारी के चलते शारीरिक दूरी व कोरोना गाइडलाइन का पालन किया गया।

विधायक ने भी दिया आशीर्वाद

होलागढ़ में विकासखंड कार्यालय से डीजे बैंड बाजा के साथ बारात चलकर मिलन गेस्ट हाउस में पहुंची और वर वधू को बैठाकर आचार्य द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के साथ 28 जोड़ों की शादी संपन्न कराई गई। सभी जोड़ों को डिनर सेट, बैग, साड़ी, चुनरी, आभूषण व वर पक्ष के लिए वस्त्र, मौर, गमछा आदि सामान उपहार स्वरूप दिया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विधायक विक्रमाजीत मौर्य रहे। विधायक ने वर वधू को आशीर्वाद देते हुए कहा कि जीवन में तमाम उतार-चढ़ाव आते रहते हैं, लेकिन वैवाहिक जीवन के हर परिस्थिति में पति-पत्नी को साथ रहना चाहिए। विधायक ने सभी 28 जोड़ों को प्रमाण पत्र प्रदान किया। इस दौरान ज्योति पुत्री फूलचंद, नीलम पुत्री राधेश्याम, संध्या पुत्री प्यारेलाल शोभा आदि अन्य सभी जोड़ों को ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि विनोद तिवारी ने आशीर्वाद दिया गया। कार्यक्रम में खंड विकास अधिकारी विकास शुक्ला, एडीओ कोआपरेटिव विजेंद्र मिश्रा, एडीओ आइएसबी रामजी मिश्रा, एपीओ विनोद कुमार गुप्ता, लव कुमार मिश्रा, एडीओ समाज कल्याण सचिन पटेल, अवधेश पटेल, शिव शंकर मिश्रा, नंद किशोर दुबे, उत्कर्ष सिंह, अरविंद कुमार, त्रिभुवन सिंह, राहुल आदि सैकड़ों लोग मौजूद रहे ।

कौड़िहार में भी 19 जोड़ों ने रचाया ब्याह

उधर, विकासखंड कौडिहार परिसर में पंडित गंगाराम मिश्रा ने मंत्र उच्चारण के साथ हिंदू रीति-रिवाज से विवाह संपन्न कराया जबकि दो मुस्लिम जोड़ों का मौलवी द्वारा निकाह कराया गया। कार्यक्रम जिला समाज कल्याण अधिकारी एवं खंड विकास अधिकारी विकास शुक्ला की देखरेख में संपन्न हुआ। परिणय सूत्र में बंधने वाले प्रत्येक जोड़ों को उपहार के तौर पर गृहस्थी के सामान के साथ 35000 रुपये का चेक भेंट किया गया। जिनमें कविता, कोमल, सुधा देवी, श्वेता,अल्पना, मोनी, अन्नू गौतम, गीता देवी, लता मौर्या, आशा, कोमल, पूनम सरोज, आस्था सरोज, रेनू, अंतिमा साहू, सालिका बानो, अलकमा बानो, फूला देवी, संध्या पटेल, आरती गौतम और ननकी शामिल रही।

Edited By: Ankur Tripathi