आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा में मलपुरा के धनौली की रहने वाली नहनी पत्नी की नवाब सिंह ने एक वर्ष पहले 75 हजार रुपये कर्ज लेकर घोड़ी खरीदी थी। पड़ोसी ने उसकी आंख फोड़ दी। पीड़िता द्वारा अभियोग दर्ज कराने के बाद आरोपित पक्ष राजीनामा करने का दबाव बना रहा है। आय का एकमात्र जरिया होने से पीड़िता और उसका परिवार पाई-पाई का मोहताज है। पीड़िता ने सोमवार को पुलिस आयुक्त कार्यालय में पहुंचकर शिकायत की। उन्होंने थाने को आवश्यक कार्रवाई के आदेश दिए।

कर्ज लेकर खरीदी थी घोड़ी

धनौली के निखिल विहार निवासी नहनी ने बताया कि वह और पति बस्ती जिले में ईंट भट्ठे पर काम करते हैं। भट्ठा मालिक ने उन्हें 65 हजार रुपये घोड़ी खरीदने को दिए थे। यह रकम उन्हें भट्ठे पर काम करने के दाैरान किस्त में चुकानी थी। सितंबर में छुट्टियों में वह घोड़ी को लेकर गांव चले आए। घटना 11 सितंबर 2022 की है। वह परिचित के यहां शादी में गई थी। घर पर बच्चे थे। पड़ोस में रहने वाली महिला ने किसी बात पर बच्चों को पीट दिया। उसकी घोड़ी की आंख फोड़ दी। उसने आरोपित के विरूद्ध अभियोग दर्ज करा दिया।

ये भी पढ़ें...

UP Urban Body Election 2022: सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ की विधायकों को नसीहत, निकाय चुनाव पर करें फोकस

परिवार में आय का एकमात्र जरिया थी घोड़ी

घोड़ी उसके और परिवार की आय का एकमात्र जरिया थी। वह अब काम की नहीं रह गई है। जिसके चलते वह पाई-पाई की मोहताज हो गई है। भट्ठा मालिक उसे काम पर बुला रहे हैं। इधर, आरोपित उस पर राजीनामा करने का दबाव बना रहे हैं। पुलिस भी उसका पक्ष ले रही है। मामले में मलपुरा थानाध्यक्ष तेजवीर सिंह का कहना है कि आरोपित के खिलाफ आरोप पत्र न्यायालय में प्रेषित किया जा चुका है। 

ये भी पढ़ें...

Agra News: इटावा से आगरा कोचिंग करने आई दरोगी की पुत्री दहशत में, सिरफिरा दे रहा दुष्कर्म और हत्या की धमकी

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट