आगरा, जागरण संवाददाता। डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय ने छात्रों की समस्याओं को दूर करने के लिए उच्च स्तरीय समिति का गठन किया। इस समिति ने हेल्प डेस्कस स्थापित की, जिसमें अब तक 2285 शिकायतें आ चुकी हैं। इनमें से समाधान केवल अब तक 80 शिकायतों का हुआ है। यह शिकायतें छात्रों की समस्याओं की गंभीरता की तरफ इशारा कर रही है क्योंकि अवकाश वाले दिन भी शिकायतें लगातार पहुंच रही हैं।

विजयदशमी के अवकाश पर कार्यरत रही हेल्प डेस्क पर अपनी शिकायत दर्ज कराने 38 छात्र पहुंचे। सोमवार से लग रही इस हेल्प डेस्क में अब तक सबसे ज्यादा गूगल फार्म से 1411 व ई-मेल से 409 शिकायतें प्राप्त हो चुकी हैं। समिति समन्वयक प्रो. मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि शुक्रवार को एजेंसी के पास 38 शिकायतें निस्तारण के लिए भेजी गई हैं। अब तक 80 शिकायतों का निस्तारण हो चुका है, जो प्राप्त शिकायतों के अनुपात में काफी कम हैं। शिकायतों में एमडबल्यू, परिणाम लंबित के साथ ही प्राप्तांक में गड़बड़ी भी शामिल है। जिनके प्राप्तांक में गड़बड़ी है, उनकी ओएमआर भी मंगाकर जांच की जाएगी। समिति छात्रों से उनकी समस्याएं प्राप्त कर रिपोर्ट प्रभारी कुलपति को सौंपेगी। इसके लिए 15 दिन का समय दिया गया है। फिर भी छात्रों की जो समस्याएं तत्काल हल होने लायक हैं उनका समाधान भी कराया जा रहा है। जिन छात्रों के प्रार्थनापत्र के साथ किसी और प्रमाणपत्र को लगाने की जरूरत है, उसे ई-मेल के माध्यम से सूचित भी किया जा रहा है। समिति सदस्य प्रो. बृजेश रावत, सौरभ शर्मा, देवेंद्र, सहायक कुलसचिव पवन कुमार आदि लगातार शिकायतों पर नजर बनाए हुए हैं।

 

Edited By: Prateek Gupta