नई दिल्ली, टेक डेस्क। Google ने अपने प्लेटफॉर्म से एक लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप ToTok को रिमूव कर दिया है। कंपनी ने यह कदम इसलिए उठाया है क्योंकि संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) सरकार द्वारा इसका इस्तेमाल यूजर्स पर निगरानी रखने के लिए किया जा रहा था। इसे Apple ऐप स्टोर और Google Play Store से दिसंबर में हटा लिया गया था। जो भी यूजर्स इस ऐप को अपने फोन में इंस्टॉल कर रहे थे उनकी जानकारी ट्रैक की जा रही थी।

9to5Google की एक रिपोर्ट की मानें तो Google ने अपने प्ले स्टोर से इस ऐप को रिमूव कर दिया है। अमेरिका के आधिकारियों के मुताबिक, इस ऐप को मिडल ईस्ट, एशिया, अफ्रीका और नॉर्थ अमेरिका में लाखों बार डाउनलोड किया जा चुका है। वहीं, ऐप रैंकिंग और रिसर्च फर्म App Annie के मुताबिक, पिछले हफ्ते ही यह ऐप अमेरिका सोशल ऐप्स में सबसे ज्यादा डाउनलोड की जाने वाली ऐप बन गई है।

न्यूयॉर्क की एक फर्म ने जांच कर यह पता लगाया था कि इस ऐप को बनाने वाली कंपनी Breej Holding है। रिपोर्ट में पाया गया कि यह कंपनी DarkMatter के साथ मिलकर काम कर रही थी। DarkMatter अबु धाबी स्थित एक साइबर इंटेलिजेंस और हैकिंग फर्म है जो पहले से ही साइबर क्राइम को लेकर FBI इन्वेसिटेशन में है।

आपको बता दें कि इससे पहले एक रिपोर्ट सामने आई थी जिसमें कहा गया था कि Google ने अपने प्लेटफॉर्म से 1.9 बिलियन ऐप्स को हटा दिया था। Google ने अपने मालवेयर प्रोटेक्शन Google Play Protect को पेश किया था जिसने वर्ष 2019 में 1.9 मिलियन यानी 190 करोड़ से भी ज्यादा मालवेयर ऐप्स को रिमूव कर दिया था। बताया गया है कि इस तरह की ऐप्स नॉन-गूगल ऐप स्टोर, ऑनलाइन गैमबल्गिं और व्यस्क वेबसाइट्स के जरिए इंस्टॉल की जाती हैं। यहां पढ़ें पूरी खबर

Posted By: Shilpa Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस