जयपुर, जेएनएन। बिटकॉइन में निवेश के नाम पर तीन हजार लोगों से ठगी करने वाले एक प्रेमी युगल को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। यह प्रेमी युगल लोगों को बिटकॉइन में निवेश के जरिए एक प्रतिशत रोज कमाने का झांसा देता था। पकड़ी गई युवती अविका चूरू और युवक मनोज कुमार जोधपुर का रहने वाला है। मनोज 10वीं तक पढ़ा है, जबकि अविका इंग्लिश लिटरेचर से बीए पास है। 

राजस्थान पुलिस के एडीजी अनिल पालीवाल ने बताया एसओजी में दिल्ली निवासी गुरमीत सिंह ने रिपोर्ट दी थी कि आरोपियों ने बिटकॉइन में निवेश करने पर रोजाना 1 प्रतिशत कमीशन देने का झांसा देकर 5 करोड़ रुपये हड़प लिए। 

कुछ कमीशन देने के बाद आरोपियों ने मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया और वेबसाइट को भी बंद कर दिया। एसओजी ने मामले की जांच शुरू की तो सामने आया कि दोनों आरोपी ठगी गई राशि को एडजस्ट कर विदेश भागने की तैयारी में थे। इन्हें जयपुर में जगतपुरा के रामनगरिया स्थित एक फ्लैट से गिरफ्तार किया गया है। अभी तक तीन पीडि़त सामने आए है, जिनसे इन्होंने 18 करोड़ रुपये की ठगी की है। जबकि आरोपियों के पास अलग-अलग राज्यों के 3 हजार लोगों की आईडी मिली है। मनोज के खिलाफ जयपुर कमिश्नरेट, जोधपुर कमिश्नरेट, जोधपुर ग्रामीण, उदयपुर, पाली, कोटा, बूंदी व सवाईमाधोपुर के पुलिस थानों में ठगी के21 केस पहले से दर्ज हैं। 

दोनों ने एमएलएम आई-मैक्स कैपिटल कंपनी बना रखी थी। आरोपियों ने लोगों को निवेश के लिए लुभाने व विश्वास दिलाने के लिए देश के बड़े शहरों के अलावा बैंकॉक में बड़े-बड़े इवेंट कराए। मनोज व अविका ने लोगों को विश्वास दिलाने के लिए एक फर्जी मैरिज सर्टिफिकेट भी बना रखा था। जबकि मनोज की पत्नी व दो बच्चे गांव में रहते हैं और अविका पति को छोड़कर मनोज के साथ रह रही थी। आरोपियों ने जैसे ही लोगों को पैसे देने बंद किए तो वे परेशान करने लगे। इसके बाद उन्होंने पुरानी वेबसाइट को बंद कर दूसरी कंपनी आई-मैक्स के नाम से शुरु कर दिया। 

 Maharashtra: नागपाड़ा में सड़क किनारे पड़े शख्‍स ने चबा डाली ट्रैफिक कांस्टेबल की अंगुली

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस