लुधियाना, जेएनएन। शेरपुर में दुकानों पर नगर निगम की कार्रवाई के विरोध में रेहड़ी-फड़ी वालों ने जोन सी आफिस के बाहर धरना लगाकर प्रदर्शन किया। जोन के अधिकारियों की कार्रवाई से गुस्साए रेहड़ी-फड़ी वाले शेरपुर मंडी से नारेबाजी करते हुए सी जोन कार्यालय पहुंचे और उसके समक्ष धरना दिया। उन्होंने नगर निगम की कार्रवाई को धक्केशाही करार दिया।

रेहड़ी फड़ी वालों की अगुआई कर रहे हैं पूर्व पार्षद राधा किशन व राजेश मिश्रा ने आरोप लगाया कि जब नगर निगम के अधिकारियों को हजार रुपया महीना दिया जाता था तो रेहड़ी-फड़ी वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती थी। कुछ दिनों से रेहड़ी-फड़ी वालों ने नगर निगम के अधिकारियों को पैसा देना बंद कर दिया तो नगर निगम रोजाना रेहड़ी-फड़ी वालों की दुकानों को नुकसान पहुंचाता है। रेहड़ियां जब्त की जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि नगर निगम के अधिकारी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। नगर निगम की ओर से पहले 2000 रुपये लिए जाेत थे और उसकी रसीद दी जाती थी। अब कर्मचारियों ने रसीद देना बंद कर दिया है, जिससे रेहड़ी-फड़ी वालों ने पैसा देना बंद कर दिया है। उन्होंने कहा कि नगर निगम के अधिकारी रेहड़ी फड़ी वालों को वेंडर जोन बनाकर दें और उसके बाद शेरपुर में लगने वाली रेहड़ी-फड़ी हटाएं। नगर निगम जबरन रेहड़ी फड़ी वालों को हटाएगा तो जोरदार संघर्ष किया जाएगा। प्रदर्शनकारियों में घनश्याम मंडल, जयराम ठाकुर, विपिन कुमार, संजीव कुमार, अशोक कुमार, ओंकार, बलराम, डीके ठाकुर, सुजान कुमार मुख्य तौर पर शामिल रहे।  

यह भी पढ़ें - पंजाब कांग्रेस में सिद्धू के बाद बिट्टू हुए आक्रामक, बोले- कैप्टन साहब कुछ कर लो, नहीं तो पीछे रह जाएंगे

यह भी पढ़ें - खौफनाकः पटियाला में बेटा पैदा न करने से खफा पति ने पत्नी पर डाला तेजाब, 58 फीसद झुलसी