संवाद सहयोगी, जगराओं (लुधियाना)। Punjab Vidhan Sabha Chunav: आम आदमी पार्टी में सब अच्छा नहीं है। लीडरशिप आम आदमी होने का दावा तो करती है लेकिन वर्करों के साथ व्यवहार के समय पार्टी के वरिष्ठ नेता होने का अहसास करवाते हैं। यह विचार कुलविंदर कौर प्रधान गिदडविंडी के ने व्यक्त किए। आम आदमी पार्टी पर तानाशाही के आरोप लगाते हुए कुलविंदर कौर ने 25 परिवारों के साथ अकाली दल में शामिल हुई। शिरोमणि अकाली दल के हलका इंचार्ज पूर्व विधायक एसआर कलेर ने उनका स्वागत किया।

इस मौके राज कौर, प्रीतम कौर, गुरमीत कौर, सुखविंदर सिंह, बलवीर सिंह, मलकीत कौर, भगवान सिंह, बलदेव सिंह, कुलवंत सिंह, रणजीत कौर, परमजीत कौर, गुरदेव सिंह, गुरनाम सिंह, दिलबाग सिंह, जरनैल सिंह, मनप्रीत सिंह, गुरमीत सिंह, बरजिंदर कौर, अमरजीत कौर, गुरबचन सिंह, जोगिंदर सिंह व सुरजीत सिंह भी शिरोमणि अकाली दल में शामिल हाे गए।

कुलविंदर कौर तथा उनके सहयोगियों का स्वागत करते हुए पूर्व विधायक कलेर ने कहा की अकाली दल ही एक ऐसी पार्टी है जिसमें सभी वर्गों के लोगों को सम्मान दिया जाता है। इस मौके कुलविंदर कौर ने कहा कि वह आम आदमी पार्टी में आम लोगों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने के इरादे के साथ आए थे , लेकिन आम आदमी पार्टी के विधायकों द्वारा पिछले समय के कार्यकाल दौरान आम लोगों के दुख सुख को समझने की बजाय अपनी जिंदगी संवारने और निजी लाभ के अलावा कुछ भी नहीं किया।

यह भी पढ़ें-Electricity Crisis In Punjab: पंजाब में 6 घंटे तक लग रहे बिजली कट, थर्मल प्लांटों में 2 दिन का कोयला बचा

 

ये रहे माैजूद

इस अवसर पर अकाली दल के सर्किल प्रधान सुखदेव सिंह गिदडविंडी, सर्कल प्रधान दीदार सिंह मलिक, शिवराज सिंह, प्रधान सुरेंद्र सिंह, प्रधान सतपाल कौर ग्रेवाल, प्रधान गुरबचन सिंह, नंबरदार जलवंत सिंह, बलदेव सिंह पूर्व सरपंच तेजिंदर सिंह के अलावा अन्य उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें-Power Crisis In Punjab: लुधियाना में अघोषित बिजली कटाैती से बढ़ी परेशानी, कई इलाकों में पेयजल संकट

 

Edited By: Vipin Kumar