जागरण संवाददाता, लुधियाना। शहर में एक धार्मिक समारोह के दौरान पंजाबी गायक जी खान की तरफ से गाए गाने के बाद उसे माफी देने पर हिंदू संगठन ही आमने सामने हो गए हैं। बताया जा रहा है कि शिव सेना पंजाब की तरफ से गायक काे रविवार काे माफी देने के लिए संगला वाले शिवाला मंदिर बुलाया गया था। उसने मंदिर के प्रबंधक महंत नारायण पुरी के समक्ष सभी हिंदुओं से इस पर माफी भी मांग ली थी। मगर बाद में बाहर हिंदुओं का एक और गुट आकर जमा होने लगा। जैसे ही जी खान वहां से जाने के लिए गाड़ी में बैठा तो उसका विरोध शुरू हो गया।

तीन थानों की पुलिस मौके पर तैनात

वहां पर उसके साथ धक्कामुक्की करने का भी प्रयास हुआ है। बाद में शिवसेना पंजाब के कुछ नेताओं और दूसरे हिंदू संगठनाें के लोग आपस में उलझे हैं और एक दूसरे पर पत्थर भी चलाए गए हैं। यही नहीं एक दूसरे पर लाठियों से हमला भी किया गया है। इसके बाद मौके पर बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो रहे हैं और पुलिस बल को तैनात किया गया है।  दोनों तरफ के नेताओं को समझाने का प्रयास किया जा रहा है। एसीपी रमनदीप सिंह भुल्लर समेत तीन थानों की पुलिस मौके पर तैनात की गई है।

शिवसेना ने की थी पुलिस काे शिकायत

गाैरतलब है कि कुछ दिन पहले ही इस समारोह का आयोजन किया गया था। जिसमें जी खान और इसके बाद मास्टर सलीम ने अपनी हाजिरी लगवाई थी। समारोह में जी खान ने कुछ पंजाबी गीत जैसे कि 'पैग मोटे-मोटे ला के हाण दिए, तेरे विच्च वज्जण नूं जी करदा', 'चोली के पीछे क्या है' समेत अन्य गीत प्रस्तुति किए थे, जिसके बाद विवाद खड़ा हुआ है। शिवसेना ने यह भी कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो जी खान का पूरे पंजाब में कोई शो नहीं होने दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें-Sidhu Moose Wala: मूसेवाला को You tube ने डायमंड प्ले बटन के साथ किया सम्मानित, पिता ने शेयर की तस्वीर

Edited By: Vipin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट