जासं, लुधियाना। सरकार दावा कर रही है कि भ्रष्टाचार रोकने व काम में जीरो एरर करने के लिए आनलाइन सिस्टम लागू किया गया है। आनलाइन सिस्टम में किसी तरह की गलती के चांस नहीं रहेंगे। लेकिन लुधियाना एसडीएम पूर्वी के ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक के कर्मचारियों का कारनामा देखिए कि एक युवती को रविवार के दिन ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए ट्रैक पर बुला लिया। युवती जब बीते रविवार को टेस्ट ट्रैक पर पहुंची तो पता चला कि ट्रैक के कर्मचारी रविवार के दिन छुट्टी पर हैं और कोई भी कर्मचारी वहां नहीं आया। एक दो घंटे इंतजार के बाद युवती वहां से वापस लौट गई।

 

युवती का कहना है कि उसने सबसे पहले एक जून को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आनलाइन अप्वाइंटमेंट ली। उसे तीन जून की तारीख मिली। तीन जून को जब वह ट्रैक पर गई तो उसके दस्तावेज चेक करके उसे ड्राइविंग टेस्ट के लिए 20 जुलाई को बुलाया गया। जब वह 20 जुलाई को टेस्ट देने ट्रैक पर पहुंची तो उसे कहा गया कि तकनीकी कारणों से काम नहीं हो रहा है इसलिए उन्हें 25 जुलाई को आना होगा। इसके लिए बकायादा उसे मेसेज भी भेजा गया। यही नहीं 27 जुलाई को उसे टाइम स्लाट भी दिया गया जिसके हिसाब से उसे सुबह 11.15 बजे से एक बजे के बीच में आना था।

 

25 जुलाई को रविवार था लेकिन युवती को लगा कि अगर उसे मैसेज आया है तो ट्रैक भी खुला होगा। लेकिन जब वह ट्रैक पर आई तो वहां कोई भी नहीं था। युवती का कहना है कि उसने पहले इंतजार किया और बाद में जब वहां मौजूद गार्ड से पूछा तो उसने कह दिया कि रविवार को ट्रैक पर काम ही नहीं होता इसलिए वह घर चले जाए। युवती का कहना है कि उसके बाद भी उन्हें अभी तक नई तारीख नहीं दी गई।

यह भी पढ़ें-Tokyo Olympics 2020: बाॅक्सर सिमरनजीत काैर की जीत के लिए दुआ, मुकाबले को देखने के लिए लाेग उत्साहित

 

Edited By: Vipin Kumar