जासं, लुधियाना। Punjabi film Moosa Jatt: सिद्धू मूसेवाला की फिल्म 'मूसा जट्ट' का भी विवादों से नाता रहा है। पिछले कुछ महीनों से पंजाबी फिल्मों में पायरेसी की शिकायतों के बाद फोरेंसिक टीम ने लुधियाना के एक सिनेमा घर से तीन लाेगाें को पायरेसी करते हुए रंगे हाथों पकड़ा। दी फ्राइडे रश मोशन पिक्चर्स ने इस संबंध में पुलिस को शिकायत दी थी।

ओमेक्स प्लाजा की चौथी मंजिल में वी-2 सिनेमा घर के मैनेजर विकास विरदी ने पुलिस को बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि सिनेमा घर में जो भी फिल्म बनती है, उस पर कुछ लड़के पायरेसी फिल्म बनाते हैं और उसे ओरिजनल बताकर लोगों के बीच बेचते हैं। इसकी जांच भी लगातार कर रहे थे।

घटना के दिन सुबह के 10.15 बजे वाले शो में उन्होंने देखा कि 16,17, 18 सीट पर बैठे लड़के वीडियो बना रहे हैं। उन्होंने तीनों को पकड़ लिया। आराेपिताें की पहचान मनप्रीत सिंह उर्फ प्रिंस (प्रीत नगर धूरी लाइन), रवि कुमार और रणवीर सिंह (मनोहर नगर धूरी लाइन) के रूप में हुई है।

यह भी पढ़ें-Smuggling In Ludhiana: कार में शराब लेकर जा रहे दो तस्कर चढ़े पुलिस के हत्थे, 20 पेटी बरामद

 पायरेसी से प्रभावित हाे रही पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री

इससे पहले भी तुनका तुनका, चल मेरा पुत्त, चल मेरा पुत्त 2 ,चल मेरा पुत्त 3, किस्मत 2 की भी पायरेसी रैकेट ने की थी व सारी पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री इससे प्रभावित हो रही है। आशंका जताई जा रही है कि पकड़े गए लोगों के तार कई देशों में जुड़े हैं व पुलिस इन्वेस्टिगेशन में बड़ा रैकेट पकड़ में आ सकता है। नवीनतम टेक्नोलॉजी का फायदा उठाकर पंजाबी फिल्म की काॅपी कर विभिन्न वेबसाइटों पर अपलोड करके पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री को बहुत बड़ा नुकसान पहुंचाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें-Vegetable Prices in Navratri: लुधियाना में टमाटर और प्याज के दाम डेढ़ गुना बढ़े, 100 रुपये किलाे बिक रही शिमला मिर्च

 

Edited By: Vipin Kumar