जेएनएन,जालंधर। इंटेलिजेंस, सीआइएफ स्टाफ और जम्‍मू कश्‍मीर की पुलिस ने संयुक्त छापेमारी कर जालंधर के शाहपुर में स्थित एक इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रावास से तीन छात्रों को एके 47 समेत खतरनाक हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। पकड़े गए युवक कश्मीर के मुस्लिम युवक बताए जा रहे हैं। ये लोग कश्‍मीरी अातंकी संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद से जुड़े थे और दीवाली पर पंजाब में बड़ी वारदात करने की फिराक में थे। गिरफ्तार छात्रों में 15 लाख रुपये के इनामी कुख्‍यात आतंंकी जाकिर मूसा का चचेरा भाई है। 

पकड़े गए दो छात्र शहर के सीटी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी से बीटेक कर रहे हैं। तीसरा छात्र सेंट सोल्जर ग्रुप इंस्टीट्यूट में मेडिकल लैब सांइस की पढ़ाई कर रहा है। अंसार गाजवत-उल हिंद संगठन, अलकायदा के स्लीपर सेल के तौर पर काम करता है। छात्रों का संबंध जैश-ए-मोहम्मद से भी है।

आतंकी संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद से जुड़े थे, एक कुख्‍यात अातंकी मूसा का चचेरा भाई

जालंधर के पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि तीनों के कब्जे से एक एके-47 राइफल, इटली में बनी पिस्टल व एक किलो आरडीएक्स जैसा विस्फोटक पदार्थ बरामद किया गया है। हालांकि, इस पदार्थ की पहचान नहीं हुई है। तीनों के खिलाफ जालंधर के थाना सदर में धोखाधड़ी की साजिश, आम्र्स एक्ट, विस्फोटक अधिनियम आदि के तहत केस दर्ज किया है।

दीवाली पर करना चाहते थे पंजाब में बड़ी आतंकी वारदात

बताया जाता है कि ये छात्र दीवाली के करीब पंजाब में बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के लिए तीन थानों की पुलिस सीआइए थाने पहुंच चुकी है। पुलिस तीनों को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी।

यह भी पढ़ें: पंजाब सरकार पेट्रोल-डीजल सस्ता करने को तैयार नहीं, फिलहाल राहत की उम्‍मीद नहीं

पंजाब के डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने बताया कि पंजाब और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस ने संयुक्‍त ऑपरेशन में कश्मीर आतंकी गुट से जुड़े इन छात्रों को दबोचा। प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ है कि ये छात्र कश्मीरी आतंकवादी संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद (एजीएच) के जुड़े थे। छात्रों को जालंधर के बाहरी इलाके शाहपुर में स्थित सीटी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी के छात्रावास से पकड़ा गया है।

यह भी पढ़ें: गिरफ्तार कश्मीरी छात्रों में आतंकी मूसा का कजिन भी, तीन साल से सक्रिय था स्लीपर सेल

जानकारी के अनुसार, बुधवार सुबह पुलिस की संयुक्‍त टीम ने इंजीनियरिंग कॉलेज के हॉस्‍टल में छापा मारा। वहां बीटेक (सिविल इंजीनियर) के दूसरे सेमेस्टर के छात्र जाहिद गुलजार के रूम से दो एके 47 राइफल समेत कई हथियार और विस्फोटक मिले। जाहिद श्रीनगर के पास अवंतीपोरा थाना क्षेत्र के के राजपोरा का रहनेवाला है। जाहिद के साथ उसके दो साथियों मोहम्‍मद इदरीश शाह और युसूफ रफीक बट्ट को भी गिरफ्तार किया गया है। इदरीश पुलवामा और युसूफ रफीक पुलवामा के नूरपुरा का रहने वाला है। युसूफ कुख्‍यात आतंकी मूसा का चचेरा भाई है।

हॉस्‍टल से गिरफ्तार किए गए इंजीनियरिंग के छात्र।

यह भी पढ़ें: तो चंडीगढ़ से फिसल रहा है पंजाब का हक, इन कदमों से उठे सवाल

डीजीपी ने बताया कि इन छात्रों की गिरफ्तारी जम्मू-कश्मीर और पंजाब में सक्रिय कुछ आतंकवादी संगठनों व उनसे जुड़े लोगों की गतिविधियों की निगरानी के क्रम में मिले इनपुट के आधार पर की गई। इनके आतंकी संगठन से जुड़े होने और उसके लिए काम करने की पुष्टि के बाद छापा मारा गया।

 
ऐसे अंजाम दिया ऑपरेशन...

92 पुलिस कर्मियों ने रात 11.30 बजे घेरा कैंपस

तीनों छात्रों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने मंगलवार रात को ऑपरेशन शुरू किया। लगभग 11.30 बजे सीटी इंस्टीट्यूट के शाहपुर कैंपस को 92 पुलिस जवानों ने चारों ओर से घेर लिया। हॉस्टल में छापे से पहले पुलिस ने ग्रुप के चेयरमैन चरणजीत सिंह चन्नी को सूचना दी और उन्हें साथ लेकर रिसेप्शन तक पहुंचे। वहां से वार्डन को तीनों छात्रों के फोटो दिखाकर उनका कमरा नंबर पूछा।

इसके बाद पुलिस अधिकारियों की एक टीम ने कमरे का दरवाजा खटखटाया। उस समय तीनों छात्र आपस में बातें कर रहे थे। कमरा खुलते ही पुलिस ने तीनों के मुंह पर कपड़ा डालकर उन्हें काबू कर लिया। पुलिस उनके कमरे से काफी सामान समेटकर साथ ले गई। ग्रुप के चेयरमैन व वार्डन को पुलिस ने रिसेप्शन पर ही रोक दिया था।

जम्मू -कश्मीर व पंजाब के आतंकी संगठनों के संपर्क में थे

पुलिस का दावा है कि तीनों ही छात्र जम्मू कश्मीर व पंजाब के आतंकी संगठनों के संपर्क में थे। छात्रों के इन संगठनों के माध्यम से संचालित गतिविधियों में शामिल होने के इनपुट्स भी मिले हैं। जालंधर के पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर बताया कि पकड़े गए छात्र अलकायदा के स्लीपर सेल के तौर पर काम कर रहे अंसार गाजवत-उल हिंद संगठन का हिस्सा हैं। वे पंजाब में बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे।

आर्यन ग्रुप से गिरफ्तार किया था गाजी अहमद

जालंधर के सीपी गुरप्रीत भुल्लर ने कहा कि तीनों छात्रों की गिरफ्तारी से कुछ दिन पहले पटियाला के आर्यन ग्रुप ऑफ पॉलीटेक्निकल कॉलेज के छात्र गाजी अहमद (शोपियां) को गिरफ्तार किया था। गाजी अहमद जम्मू-कश्मीर पुलिस के उस एसपीओ का करीबी रिश्तेदार था, जो श्रीनगर में पीडीपी विधायक के घर से पुलिस की सात राइफलें लेकर फरार हो गया था। उसने हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी संगठन ज्वाइन कर लिया था। उसे बाद में गिरफ्तार कर लिया गया था।


हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 
 

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!