नकोदर, लेखराज शर्मा। नकोदर विधानसभा हलका में शिरोमणि अकाली दल से मौजूदा विधायक गुरप्रताप सिंह वडाला, आम आदमी पार्टी से इंद्रजीत कौर मान मैदान में हैं, लेकिन अभी कांग्रेस और भाजपा ने पत्ते खोलने हैं। कांग्रेस की तरफ से सबसे मजबूत दावेदार पूर्व मंत्री अमरजीत सिंह समरा हैं, लेकिन बताया जा रहा है कि समरा परिवार चुनाव लड़ने का चाहवान नहीं है। ऐसे में डा. नवजोत दहिया, राजिंदर पाल सिंह राणा रंधावा, कंवलजीत सिंह लाली, काकू आहलुवालिया, अश्वनी भल्ला, हैप्पी संधू दावा ठोक रहे हैं। चर्चा यह भी है कि कांग्रेस की नजर पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह पर है। अगर हरभजन नहीं आते हैं तो कांग्रेस ऐसा उम्मीदवार चाहेगी, जिसे समरा परिवार का आशीर्वाद मिल जाए। वहीं भाजपा किसी हिंदू चेहरे की तलाश में है। ऐसा नेता, जिसे गांवों और शहरों से समर्थन मिल जाए।

यह भी पढ़ें-  चुनाव आयोग ने लिया अहम फैसला, कोरोना संक्रमित अब घर बैठे कर सकेंगे मतदान

चुनावी समीकरण

प्रचार में अकाली दल आगे, कांग्रेस के लिए असमंजस की स्थिति

लगातार दो बार चुनाव जीत चुके अकाली नेता गुरप्रताप सिंह वडाला तीसरी बार भी मैदान में हैं। उनकी छवि सभी वर्गों में लोकप्रिय है और इसी वजह से कांग्रेस अभी तक उनकी टक्कर का उम्मीदवार तय नहीं कर पाई है। जगबीर बराड़, जिन्हें मैदान में उतारना था, कांग्रेस छोड़कर अकाली दल में जा चुके हैं। कांग्रेस को अगर इस सीट पर जीत हासिल करनी है तो कोई बड़ा चेहरा उतारना होगा और इसके लिए पार्टी कई नामी चेहरों पर भी विचार कर रही है। आम आदमी पार्टी भी प्रचार में जुट गई है, लेकिन कई पुराने वालंटियर नाराज भी हैं। भाजपा और उनके सहयोगी दल भी अभी अपना उम्मीदवार तय नहीं कर पाए हैं। यह भी तय नहीं है कि यह सीट किसके खाते में जाएगी। भाजपा के साथ-साथ पंजाब लोक कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल संयुक्त तीनों ही सीट पर दावा कर रहे हैं।

Koo App

AAP’s newly nominated CM face Bhagwant Mann is a dummy. AAP is running its campaign on ‘ek mauka Kejriwal nu’. Will it now uproot boards put up across Pb, changing it to ‘ek mauka Bhagwant Mann nu’? Obviously not. Arvind Kejriwal continues to be the real face of AAP in Punjab. #PunjabElections2022

View attached media content

- Sukhbir Singh Badal (@sukhbir_singh_badal) 19 Jan 2022

Koo App

AAP Convener Arvind Kejriwal cannot trick Pbis with stage-managed shows. They realise making Bhagwant Mann the CM face is just a ploy to tame the wayward leader. When MLA’s / public do not accept Bhagwant then Kejriwal will step in “to save the party”. Beware of such imposters.

- Harsimrat Kaur Badal (@Harsimrat_Kaur_Badal) 19 Jan 2022

Edited By: Vinay Kumar