जासं, जालंधर। अभी 16 June को ही दुनिया भर में लोगों ने Father's Day पर अपने पिता को मान-सम्मान दिया था। इस बीच शहर में एक शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां एक घर में चार बेटों के बीच प्रॉपर्टी का बंटवारा हुआ तो पिता को भी बांट दिया गया। तय हुआ कि पिता हर बेटे के यहां छह-छह महीने रहेंगे। पिता एक बेटे के यहां छह महीने रह लिए तो वह उन्हें दूसरे भाई को सौंपने के लिए लम्मा पिंड चौक लेकर पहुंचा। वहां दूसरे बेटे ने पिता को ले जाने से इनकार कर दिया और झगड़ने लगा। हंगामा देख मौके पर भीड़ जमा हो गई। लोगों को मामला समझ में आया तो उन्होंने पुलिस बुला ली। अंत में बुजुर्ग को पहला बेटा ही अपने साथ ले गया। बुजुर्ग पिता की यह अनदेखी पूरे दिन चर्चा का विषय बनी रही।

75 साल के बुजुर्ग के चार बेटे हैं। उसने अपने चारों बेटों को जमीन-जायदाद बांट दी। फिर बेटों ने तय किया उनमें हर एक पिता को छह-छह महीने अपने पास रखेगा। मंगलवार देर शाम बेटा और बहू बुजुर्ग को कार में लेकर लम्मा पिंड चौक पहुंचे। पिता उनके पास छह महीने रह चुके थे। अब दूसरे बेटे की बारी थी। 

लम्मा पिंड चौक पर पिता को दूसरे भाई को सौंपा जाना था

लम्मा पिंड चौक पर पिता को सौंपा जाना तय हुआ था। दूसरा बेटा मोटरसाइकिल से वहां पहुंचा। बुजुर्ग कार से नीचे उतारा तो दूसरे बेटे ने उन्हें ले जाने से इन्कार कर दिया। उसने बुजुर्ग को लाने वाले भाई की कार के आगे मोटरसाइकिल लगा दी। दोनों में झगड़ा होने लगा। यह देख वहां आसपास के लोग जमा हो गए। पूरा मामला समझ में आया तो उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम में फोन कर दिया। वहां से पीसीआर कर्मी पहुंचे और दोनों पक्षों की बात सुनी। मौके पर करीब एक घंटे तक विवाद होता रहा। पुलिस वालों ने बुजुर्ग और बेटा-बहू को थाने चलने को कहा। बवाल बढ़ता देख आखिर में जो बेटा बुजुर्ग को साथ लाया था, वही वापस अपने साथ ले गया। वहां मौजूद लोगों ने बेटों को जमकर खरी-खोटी सुनाई।

आखिर में पहला बेटा अपने साथ ले गया

मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मचारी ने मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि दूसरा बेटा साथ रखने को तैयार नहीं था और लोगों को लगा कि ये बुजुर्ग को यहीं पर छोड़कर जा रहे हैं, जिसके बाद विवाद बढ़ गया। उनके हस्तक्षेप के बाद पहला बेटा फिर पिता को अपने साथ ले गया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!