जागरण संवाददाता, जालंधर। बाबा साहब डा. बीआर आंबेडकर की प्रतिमा को कथित रूप से अपनी ही माला पहने के मामले में अपमान के मामले में आम आदमी पार्टी के सीएम फेस भगवंत मान बुरे फंस गए हैं। पंजाब लोक कांग्रेस के महासचिव जगदीश कुमार जस्सल की शिकायत पर चुनाव और अनुसूचित जाति आयोग ने कार्रवाई शुरू कर दी है। जगदीश जस्सल ने मंगलवार सुबह ही इसकी शिकायत दी थी और इसका तुरंत असर नजर आया है। चुनाव आयोग ने जगदीश जस्सल से संपर्क करके उनसे इस पूरे मामले का वीडियो क्लिप हासिल किया है।

दावा है कि इस वीडियो क्लिप में भगवंत मान डा. बीआर आंबेडकर साहब की प्रतिमा पर जो हार भेंट कर रहे हैं, वह भगवंत मान के गले में ही पड़े हुए थे। इसे लेकर दलित समाज में रोष है। दलित नेता जगदीश जस्सल ने इसकी शिकायत मंगलवार सुबह ही चुनाव आयोग को की थी। इस वीडियो क्लिप में भगवंत मान डा. बीआर आंबेडकर की प्रतिमा को बाएं हाथ से सैलूट कर रहे हैं। इस पर भी लोगों को ऐतराज है। जगदीश जस्सल ने कहा कि चुनाव आयोग ने उनसे संपर्क किया है। उन्होंने वीडियो क्लिप सौंप दी है।

यह भी पढ़ें-  सुल्तानपुर लोधी में बड़ा उलटफेर, राणा के बेटे के समर्थन में आए कौंसिल प्रधान, उपप्रधान समेत 8 पार्षद

जगदीश जस्सल ने बताया कि एससी कमीशन ने भी इसकी जांच शुरू कर दी है और पुलिस कमिश्नर नौनिहाल सिंह और डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी से इसकी रिपोर्ट तलब की है। बता दें कि आम आदमी पार्टी के पंजाब संयोजक एवं सीएम पद के दावेदार भगवंत मान सोमवार को जालंधर दौरे पर थे। इस दौरान वह डा. बीआर आंबेडकर की प्रतिमा पर भी पुष्प अर्पित करने पहुंचे थे। आरोप है कि उन्होंने डा. साहब की प्रतिमा पर जो फूल मालाएं चढ़ाई, जो उनके गले में ही पड़ी थी।

यह भी पढ़ें-  Punjab Chunav 2022 :फिरोजपुर में पूर्व विधायक सुखपाल नन्नू का भाजपा उम्मीदवार राणा सोढी को समर्थन, किसान आंदोलन के कारण छोड़ी थी पार्टी

Edited By: Vinay Kumar