गुरदासपुर, संवाद सहयोगी। गणतंत्र दिवस को लेकर पंजाब में हाई-अलर्ट है। सीमा पर सुरक्षा को देखते हुए लगातार पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है। पंजाब में चल रहे हाई अलर्ट के बीच सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने जहां भारत-पाक सीमा पर दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया है, वहीं काउंटर इंटेलिजेंस ने बठिंडा छावनी में ओडिशा के एक संदिग्ध को पकड़ा है।

दोनों संदिग्धों की पहचान राज कुमार (45) और कैप्टन उर्फ हरमन (23) के रूप में हुई है। ये दोनों ही डेरा बाबा नानक के रहने वाले हैं। बीएसएफ ने दोनों संदिग्धों राज कुमार (45) और कैप्टन उर्फ हरमन (23) दोनों को हेडक्वार्टर शिकार माछिया के पास से गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें: Firozpur Crime: भाई को नशा देने पहुंची बहन गिरफ्तार, बैरेक की तलाशी अभियान में 6 मोबाइल फोन बरामद

जुड़े हैं पाकिस्तानी तार

पंजाब में गिरफ्तार किए गए दोनों संदिग्धों के तार पाकिस्तान से जुड़े हैं। कैप्टन के मोबाइल से 18 पाकिस्तानी नंबर मिले हैं। कैप्टन के आतंकियों व नशा तस्करों के साथ संबंध होने का शक है। पाकिस्तान से तार जुड़े होने के बाद से ही खुफिया एजेंसियां भी सतर्क हो गईं हैं।

बीएसएफ के डीआइजी प्रभाकर जोशी ने बताया कि दोनों संदिग्ध ड्राइवर हैं। मंगलवार को दोनों बीओपी चंदू वडाला में प्रीत गैस एजेंसी के टाटा एस वाहन से गैस सिलेंडर सप्लाई करने पहुंचे थे। कैप्टन ने अपने मोबाइल में पाकिस्तानी नंबरों को बदर बट्ट, उस्ताद जी, चाचा पाक, डा. पाक उस्ताद, फासिल पाक, गजदेव का उस्ताद, इस्लामबाद उस्ताद, जगदेव वीर पाक, मोइन नवाज उस्ताद, उस्ताज इम्तियाज पार्टी, उस्ताद पाक, उस्ताद स्किल पाक, पोलिस पाक उस्ताद, पीडब्ल्यूडब्ल्यूडब्लयू, राजा काका व उस्ताद अजर पाक के नाम पर सेव किया था।

इसके अलावासात वर्चुअल मोबाइल नंबर ब्रिकम दुबई, ब्रो दुबई, जीत, लव यू ब्रो, लवली टी,रमदास, रमदास डी के नाम से सेव किया था। इनसे इंस्टाग्राम व फेसबुक पर भी चैट की गई थी। प्राथमिक जांच के दौरान कैप्टन ने बताया कि उसका भाई विक्रम 2016 से 2021 तक दुबई में था और उसके कई दोस्त पाकिस्तान के फैसलाबाद के हैं। अब उक्त दोस्तों के कई रिश्तेदारों से भी पारिवारिक संबंध बन गए हैं। दुबई से आने के बाद उसका भाई भी दिसंबर 2022 में करतारपुर कॉरिडोर के माध्यम से पाकिस्तान गया था। वह फेसबुक चैट और वायस मैसेज के माध्यम से अफखतार सहिजाद के संपर्क में है।

यह भी पढ़ें: Bathinda News: स्पेशल स्टाफ के पुलिस मुलाजिम की सर्विस रिवाल्वर छीनकर भागे युवक

जांच के बाद राज कुमार को छोड़ा गया

उधर, थाना प्रभारी कलानौर मनजीत सिंह ने बताया कि प्राथमिक जांच के बाद राज कुमार को छोड़ दिया गया है, जबकि कैप्टन के फोन से पाकिस्तानी नंबर मिलने के मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है।

ओडिशा का संदिग्ध भी गिरफ्तार

बात दें कि, बठिंडा पुलिस की काउंटर इंटेलिजेंस ने बठिंडा सैनिक छावनी के पास से ओडिशा के संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। सोमवार रात वह सैन्य क्षेत्र में संदिग्ध हालात में घूम रहा था। पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह ओडिशा का रहने वाला है।

एसएसपी जे इलनचेजियन ने बताया कि उक्त व्यक्ति के संबंध में ओडिशा पुलिस से संपर्क किया जा रहा है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस को लेकर पंजाब में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

Edited By: Swati Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट