इकबालदीप संधू, मंडी गोबिदगढ़ : शहर के मुख्य हिस्से से गुजरती लिंक सड़कों पर बारिश से खढ्डों में गंदा पानी भरने के कारण किसी भी वक्त बड़ा हादसा हो सकता है, लेकिन कई महीने बीत जाने के बाद भी अधिकारियों द्वारा इस समस्या की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। वहीं, दूसरी तरफ नगर कौंसिल के अधीन आने वाले इलाकों में भी गंदे पानी का जमावड़ा बीमारियों को न्योता दे रहा है। सड़कों पर जमा यह बारिश का पानी सेहत विभाग की उस विशेष मुहिम पर भी सवाल खड़े करता है कि क्या शहर के विभिन्न हिस्सों में चलाई जा रही डोर-टू-डोर चेकिग मुहिम या किए जा रहे चालान सिर्फ खानापूर्ति है। शहर के कई निचले इलाकों के अलावा मेन बाजार, सिविल अस्पताल समेत कई गलियों में बरसात के बाद खड़े होने वाली पानी की निकासी व दवाइयों का छिड़काव न होना नगर कौंसिल की कार्यप्रणाली पर सवाल उटा रहा है।

कुछ मिनटों में हो जाता शहर के कई इलाकों में जलभराव

बेमौसमी बरसात के कारण लोहानगरी के कई इलाकों में पानी भर जाता है, इनमें मुख्य चीमा पेट्रोल पंप के समक्ष, बीडी कांप्लेक्स, मेन बाजार, सिविल अस्पताल, मोतियां खान आदि शामिल हैं। बारिश के दिनों में यहां अकसर समस्या आती है और पानी की निकासी नहीं होने के कारण बरसात के दौरान सारा काम ठप्प हो जाता है।

नगर कौंसिल करती है रूटीन वर्क: संदीप शर्मा

सेनेटरी अधिकारी नगर कौंसिल संदीप शर्मा ने कहा कि बरसात के अलावा रूटीन में भी टीमें काम करती है, जहां जरूरत रहती है वहां पानी की निकासी करवाते है। लेकिन हाइवे अथॉरिटी के अधीन आने वाले इलाकों में वाहन चालकों को ज्यादा समस्या आ रही है।

समस्या का जल्द होगा पक्का हल: निर्मल कुमार

मंडी गोबिदगढ़ लालबत्ती चौंक से चीमा पेट्रोल पंप तक जलभराव के बारे में हाइवे अथॉरिटी मैनेजर निर्मल कुमार से बात की तो उन्होंने कहा कि दिल्ली में आज मीटिग में इस मुद्दे को रखेंगे। जिसके बाद पानी की निकासी व सड़क का पक्का हल निकाल कर समस्या हल कर दी जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!