जेएनएन, चंडीगढ़। पंजाब के कई इलाकों जालंधर, लुधियाना, फगवाड़ा में शनिवार दोपहर अचानक मौसम ने करवट ली। तेज धूप के बीच अचानक धूल भरी आंधी चलने लगी। इससे जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया। वाहन चालकों को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ा। लोग सुरक्षित स्थानों की ओर भागने लगे। रेहड़ी फड़ी वालों को भी सामान को समेटने में खासी मशक्कत का सामना करना पड़ा।

जालंधर, लुधियाना में कई स्थानों पर धूल भरी आंधी के कारण पेड़ व बिजली के खंभे भी गिरे। इसके कारण बिजली गुल हो गई। बता दें, मौसम विभाग ने पहले ही आंधी की चेतावनी दी थी। वहीं, तेज आंधी के कारण सुबह से पड़ रही तेज गर्मी से राहत मिली है।

मौसम विभाग के निदेशक सुरेंद्र पाल की माने तो आने दो दिनों में आसमान पर बादल रहेंगे, इस दौरान अधिकतम तापमान 40 डिग्री के करीब रहेगा, वहीं न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के करीब रहेगा। वहीं, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ के चलते आगामी तीन दिनों के दौरान देश के कई राज्यों में फिर आंधी-तूफान आ सकता है।

यह भी पढ़ेंः फसल बीमा योजना पर आरबीआइ का दबाव, पंजाब ने जताई आपत्ति

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!