आनलाइन डेस्क, चंडीगढ़। पंजाब के गन्ना उत्पादक किसानों को बड़ी राहत देते हुए मुख्यमंत्री भगवंत मान ने किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने गन्ने की कीमत बढ़ा कर 380 रुपये प्रति क्विंटल करने का ऐलान किया है।

सोमवार को पंजाब विधानसभा के सत्र के दौरान सदन में संबोधन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी पिराई सीजन से किसानों को गन्ने का स्टेट एग्रीड प्राइस (एसएपी) प्रति क्विंटल 20 रुपये अधिक मिलेगा जिससे गन्ने का भाव 360 रुपये प्रति क्विंटल से बढ़कर 380 रुपये प्रति क्विंटल हो गया है। इस फैसले से सरकार खजाने में से सालाना 200 करोड़ रुपये अधिक खर्चेगी।

सीएम भगवंत मान ने कहा कि ‘राज्य में किसान गन्ने की खेती तो करनी चाहते हैं लेकिन पिछले समय में उपयुक्त मूल्य न मिलने और फसल की समय पर अदायगी न होने के कारण किसानों ने गन्ने की काश्त से मुंह मोड़ लिया था।

पंजाब में 1.25 लाख हेक्टेयर में गन्ने की काश्त 

इस समय पंजाब में 1.25 लाख हेक्टेयर क्षेत्रफल में ही गन्ने की काश्त होती है जबकि राज्य की चीनी मिलों की कुल क्षमता 2.50 लाख हेक्टेयर क्षेत्रफल के गन्ने की पिराई करने की है। इस कारण मैं गन्ना उत्पादक किसानों की आय में बढ़ोतरी करने के लिए गन्ने का भाव बढ़ाने का एलान करता हूं।

निजी चीनी मिल मालिकों की प्रापर्टी जब्त होगी

किसानों की गन्ने की अदायगी के संबंध में मुख्यमंत्री ने सदन को बताया कि सहकारी चीनी मिलों ने किसानों का समूचा बकाया अदा कर दिया है। एक-दो प्राईवेट चीनी मिलों ने अभी तक किसानों की अदायगी का भुगतान नहीं किया बल्कि इन मिलों के मालिक किसानों के हितों की सुध लेने के बजाय विदेश भाग गए। उन्होंने बताया कि सरकार ने इन मिलों की जायदाद जब्त करके किसानों के बकाए का भुगतान करने की कार्यवाही पहले ही आरंभ कर चुकी है। 

यह भी पढ़ें - Punjab Crime: दीपक टीनू के पास गोइंदवाल जेल में थे कई मोबाइल, पुलिस ने नहीं की थी पूछताछ

Edited By: Pankaj Dwivedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट