जेएनएन, चंडीगढ़। केंद्रीय मंत्री और शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने आज पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर जमकर हमला किया। उन्‍होंने सिद्धू को पाकिस्‍तान का एजेंट और कठपुतली करार दिया। हरसिमरत ने कहा कि सिद्धू के रूप में पाकिस्तान को नया एजेंट मिला है। पाकिस्‍तान उन्‍हें कठपुतली के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं और वह उनकी धुन पर नृत्य कर रहे हैं। दूसरी ओर, सिद्धू ने कहा कि विदेश मंत्री से करतारपुर साहिब मार्ग पर बातचीत सकारात्‍क रही। विदेश मंत्री ने उनसे कहा है कि इस बारे में पाकिस्‍तान को भेजने के लिए ड्राफ्ट तैयार कराया जा रहा है।

श्री करतारपुर साहिब मार्ग के बारे में सिद्धू पर किए ताबड़तोड़ हमले

हरसिमरत ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत में नवजाेत सिंह सिद्धू पर ताबड़तोड़ हमले किए। उन्‍होंने कहा कि श्री करतारपुर साहिब मार्ग पर सिद्धू राजनीति और नौटंकी कर रहे हैं। वह पाकिस्‍तान निजी दौरे पर गए थे अाैर वहां जाकर राजनीति करने लगे। जब वह वहां से लौटकर भारत अाए तो उन्हें काले झंडे दिखाए गए। हर कोई नाराज था कि वह वहां गया और हमारे लोगों और सैनिकों की हत्‍या करने वाली पाकिस्‍तानी सेना के प्रमुख कमर जावेद बाजवा से गले लगा लिया।

कहा, पाक अार्मी चीफ से गले मिलने के लिए क्षमा मांगने की जगह लोगाें की भावनाओं से किया खिलवाड़

हरसिमरत ने कहा कि इसके लिए क्षमा मांगने के बजाय सिद्धू लोगों की भावनाओं के साथ खेलना शुरू कर दिया। वह पाक अार्मी चीफ से गले मिलने पर निशाने पर आया तो कहा कि उन्होंने पाक जनरल को गले लगाया क्योंकि उन्होंने करतारपुर साहिब गलियारा खोलने की बात की।

पत्रकारों से बातचीत करतीं हरसिमरत कौर बादल।

हरसिमरत ने कहा कि लेकिन सच्चाई यह है कि, पाकिस्तानी सरकार ने अब तक इस पर कुछ भी नहीं बताया है और कुछ नहीं किया। उन्‍होंने कहा कि हर कोई भूल गया कि वह एक दुश्मन राष्ट्र के पास गए थे। कई सप्ताह बीत गए, लेकिन पंजाब की कांग्रेस कांग्रेस सरकार के कैबिनेट मंत्री श्री करतारपुर साहिब को लेकर कोई दस्तावेज नहीं दे सके। वह बस  पाकिस्‍तान की भाषा में बोल रहे हैं। पाकिस्‍तान के मंत्री वहां कुछ बोलते हैं या नहीं सिद्धू यहां उनके प्रचार में जुट जाते हैं।

यह भी पढ़ें: पाकिस्‍तान का एक और मामले पर झूठ हुआ उजागर, विेदेश राज्‍य मंत्री ने खाेली पोल

उन्‍होंने कहा, मैंने विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज को पत्र लिखा कि यह प्रचार किया जा रहा है कि पाकिस्‍तान सरकार ने करतारपुर गलियारे को खोलने पर ग्रीन सिग्‍नल दिया है और हमारी सरकार इसके पक्ष से कुछ भी नहीं कर रही है। इसके जवाब में विदेश मंत्री का जो पत्र मुझे मिला उसे पढ़कर मैं दंग रह गई। सुषमा स्‍वराज ने बताया कि ऐसी कोई बात नहीं है और पाकिस्‍तान सरकार की ओर से इस तरह की कोई पहल नहीं की गई है।

राहुल गांधी पर भी निशाना साधा, सिद्धू के पाक जाने पर मांगा जवाब

हरसिमरत ने कहा, मैं राहुल गांधी से पूछता हूं कि आपकी पार्टी का मंत्री एक दुश्मन राष्ट्र गया, हमारे लोगों को धोखा दिया और सिखों की भावनाओं के साथ खेला। क्या यह सब आपके आशीर्वाद से किया गया था? क्या आप उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे या आप उसके साथ दोस्ताने में हैं ?

पत्रकारों से बातचीत करतीं हरसिमरत कौर बादल।

हरसिमरत कौर बादल ने नवजाेत सिंह सिद्धू के पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने जाने पर भी सवाल उठाए। उन्‍होंने कहा, सिद्धू पा‍किस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के इतने करीबी दोस्त हैं कि पूरी भारतीय क्रिकेट टीम में से केवल उनको ही आमंत्रित किया गया था।

--------

सिद्धू ने कहा, सुषमा स्‍वराज से बातचीत सकारात्‍मक

दूसरी ओर, पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि श्री करतारपुर साहिब के मार्ग को खोलने के मुद्दे पर उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की। उन्‍हाेंने करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने के लिए पाकिस्तान सरकार को पत्र लिखने की मांग की है। इस पर सुषमा स्‍वराज का रुख सकारात्‍मक रहा।

मी‍डिया से बातचीत करते नवजोत सिंह सिद्धू।

सिद्धू ने कहा कि सुषमा ने उन्हें यह जानकारी दी कि विदेश मंत्रालय इस संदर्भ में ड्राफ्ट तैयार करवा रहा है और पाकिस्‍तान को इस बारे में जल्द ही पत्र लिख दिया जाएगा। सिद्धू ने कहा, मैंने विदेश मंत्री को पत्र भी लिखा था कि कृपया मानसून के मौसम के बाद करतरपुर मार्ग के प्रारंभिक समझौते और उद्घाटन के अनुरोध के लिए  पाक सरकार को औपचारिक अनुरोध भेजें।

यह भी पढ़ें: पीयू के गार्डन में माली कर रहा था गंदी हरकत, शर्मिंदगी में पड़ी छात्रा किसी तरह भागकर बची

सिद्धू ने कहा कि विदेश मंत्री के साथ बैठक के दौरान हमने विस्तृत चर्चा की। मैंने श्री करतारपुर गलियारे खोलने की आवश्यकता के बारे में सुषमा स्‍वराज को समझाया। मैंने उनसे कहा कि औपचारिक अनुरोध भारत के पक्ष से जाना चाहिए। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 


 

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!