चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कॉलेजों और विश्‍वविद्यालयों की परीक्षाएं रद करने काे लेकर अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र में कैप्टन अमरिंदर सिंह‍ ने कॉलेजों और विश्‍वद्यायलयों की परीक्षाएं रद करने की मांग की है। यूजीसी की ओर से हर हाल में परीक्षाएं लेने के फैसले के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा है कि परीक्षाएं लेना संभव नहीं है।

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से से मांग की है कि वह राज्य सरकार के 3 जुलाई के फैसले को मानने की अनुमति दें। पंजाब सरकार द्वारा 3 जुलाई को कोरोना वायरस के कारण पैदा हालात को देखते हुए कॉलेजोंं और विश्‍वविद्यालयों की परीक्षाओं को रद कर दिया गया है।

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने पीएम मोदी से आग्रह किया है कि वह मानव संसाधन विकास मंत्रालय व यूजीसी को हर हाल में कॉलेजों और विश्‍वविद्यालयों में परीक्षाएं हर हाल में आयोजित करने के अपने फैसले पर पुनर्विचार के लिए कहें। कैप्टन ने पीएम से कहा कि वह यूजीसी से अपने 29 अप्रैल को जारी किए निर्देशों को ही लागू करने को कहें, जिसमें कहा गया था कि राज्य सरकारें अपने हिसाब से परीक्षाओं की योजना बनाएं।

उन्‍होंने कहा है कि प्रदेश सरकार ने विद्यार्थियों को पिछले वर्षों की परफॉर्मेंस के आधार पर ही आगे प्रमोट करने का निर्णय लिया था। विद्यार्थी ग्रेड सुधारने के लिए दोबारा परीक्षा दे सकते हैं। उच्च शिक्षा मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा ने भी मानव संसाधन विकास मंत्री को पत्र लिखकर फैसले पर पुनर्विचार की अपील की थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। कुछ अध्ययनों में कहा गया है कि अगले कुछ महीनों में यह पीक पर पहुंच जाएगा। ऐसे में परीक्षाएं लेना चुनौतीपूर्ण होगा। ऑनलाइन परीक्षाएं लेना भी संभव नहीं है, क्योंकि ग्रामीण इलाकों में न तो इंटरनेट की पर्याप्त सुविधा है और न ही सभी विद्यार्थियों के पास कंप्यूटर व लैपटॉप हैं।

यह भी पढें: राफेल अंबाला से इसी माह से भरेगा उड़ान, पार्ट्स आने शुरू, एयरबेस पर नए हैंगरों का

यह भी पढें: स्‍ट्रीट लाइट के नीचे पढ़ाई कर मजदूर की बेटी ने किया कमाल,10वीं बोर्ड परीक्षा में मेरिट

 

यह भी पढें: तीन बे‍टियों के जज्‍बे से लोग अभिभूत, कोराेना संकट पिता का बन गईं संबल


यह भी पढें: कमाल का घोटाला, लाहौर तक आटा पहुंचाने के लिए बिछाई रेल लाइन गायब

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!