अंबाला, [दीपक बहल]। सुपरसोनिक लड़ाकू विमान राफेल इस माह अंबाला एयरफोर्स स्टेशन से उड़ान भरने लगेगा। लंबी दूरी तक हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलों से लैस अत्याधुनिक राफेल विमान की पहली खेप 27 जुलाई को आएगी। राफेल के लिए नए हैंगरों का निर्माण जारी है जबकि दो बनकर तैयार हो चुके हैं। राफेल से संबंधित पाट्र्स एयरफोर्स स्टेशन आने शुरू हो चुके हैं। इसका असलहा जल्द ही अंबाला पहुंच जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका शुभारंभ कर सकते हैं। हालांकि, राफेल का शुभारंभ दिल्ली से होगा या फिर अंबाला, यह अभी तय नहीं है।

नए हैंगरों का हो रहा निर्माण, दो बनकर हुए तैयार, पीएम मोदी कर सकते हैं शुभारंभ

पहले चरण में छह राफेल भारत आएंगे। इसमें से तीन अंबाला और तीन पूर्वोत्तर के हाशीमारा में तैनात किए जाएंगे। 2022 तक सभी 36 राफेल विमान भारत को मिल जाएंगे। 18 राफेल अंबाला एयरबेस में जबकि बाकी के 18 विमान हाशीमारा में रखे जाएंगे। राफेल के आने के कारण अंबाला में प्रस्तावित डोमेस्टिक एयरपोर्ट बनने में अब लंबा समय लग सकता है। राफेल की तैनाती होने कारण डोमेस्टिक एयरपोर्ट की जगह चिन्हित और फिर रक्षा मंत्रालय से हरी झंडी मिलने में समय लग सकता है।

17 गोल्डन एरो के स्क्वाड्रन कमांडिंग ऑफिसर उड़ाएंगे विमान

पहला राफेल भारत की तरफ से 17 गोल्डन एरो के स्क्वाड्रन कमांडिंग ऑफिसर उड़ाएंगे। उनके साथ एक फ्रेंच पायलट भी रहेगा। बता दें अंबाला में राफेल की एक स्कवाड्रन तैनात की जाएगी। यहां 14 नए शेल्टर्स, नए हैंगरों, नए संचालन स्थलों, एक डी-ब्रीफिंग कक्ष और सिमुलेटर प्रशिक्षण का निर्माण तेजी से हो रहा है। विमान के रखरखाव और अपग्रेडेशन का काम भी लगभग पूरा हो चुका है। फिलहाल अंबाला में जगुआर लड़ाकू विमान तैनात हैं।

--------------------------

राफेल की खासियत

--भार ढोने की क्षमता...24500 किग्रा।

--ईंधन क्षमता 4700 किग्रा

---अधिकतम रफ्तार 2200 से 2500 किमी प्रतिघंटा

---मारक क्षमता 3700 किमी

---1.30 एमएम की गन से एक बार में 125 राउंड गोलियां निकलती हैं

---30 एमएम की तोप से 2500 राउंड गोले दागने की क्षमता

---300 किमी की रेंज से हवा से जमीन पर हमला करने में सक्षम

-9.3 टन वजन के साथ 1650 किलोमीटर तक उड़ान भरने की क्षमता

--14 हार्ड प्वाइंट के जरिये भारी हथियार भी गिराने की क्षमता

---घातक एमबीडीए एमआइसीए, एमबीडीए मेटेओर, एमबीडीए अपाचे, स्टोर्म शैडो एससीएएलपी मिसाइलों से लैस

---थाले आरबीई-2 रडार और थाले स्पेक्ट्रा वारफेयर सिस्टम के साथ ऑप्ट्रॉनिक सेक्योर फ्रंटल इंफ्रा-रेड सर्च और ट्रैक सिस्टम से लैस

यह भी पढें: स्‍ट्रीट लाइट के नीचे पढ़ाई कर मजदूर की बेटी ने किया कमाल,10वीं बोर्ड परीक्षा में मेरिट

यह भी पढें: तीन बे‍टियों के जज्‍बे से लोग अभिभूत, कोराेना संकट पिता का बन गईं संबल


यह भी पढें: कमाल का घोटाला, लाहौर तक आटा पहुंचाने के लिए बिछाई रेल लाइन गायब

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021