जेएनएन, चंडीगढ़। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के आरोपी जगतार तारा ने स्वीकार किया है कि उसने ही उस कार को खरीदा था, जिसे पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के लिए इस्तेमाल किया गया था। उसने इस तथ्य को अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश की अदालत में स्वीकार करते हुए सीआरपीसी की धारा 313 के तहत अपना बयान दर्ज करवाया।

इस मामले की अगली सुनवाई 13 नवंबर को होगी, जिसमें जगतार तारा के शेष बयान अदालत में दर्ज किए जाएंगे। सीबीआइ के वकील ने पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के हत्याकांड के आरोपी जगतार सिंह तारा के आगे 50 प्रश्न रखे थे। सवालों के जवाब देते हुए तारा ने स्वीकार किया कि उसने दिल्ली के निवासी से कार खरीदी। कार खरीदते समय उसने खुद की पहचान वसन सिंह के नाम से करवाई और इसी नाम से हस्ताक्षर भी किए।

पिछली सुनवाई में अभियोजन पक्ष ने अपने साक्ष्य पूरे कर लिए थे और सोमवार को जगतार तारा ने अपने बयान दर्ज करवाए। उल्लेखनीय है कि 31 अगस्त 1995 को पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह को एक आत्मघाती हमलावर ने हमला कर हत्या कर दी थी।

यह भी पढ़ेंः साथी किरायेदार नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर करते रहे गैंगरेप

पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के हत्यारे भ्यौरा, हवारा और जगतार सिंह तारा और एक अन्य मामले में एक आरोपी देवी सिंह, बुड़ैल जेल से जनवरी 21-22, 2004 की रात  94 फुट लंबी और 2.4-फुट चौड़ी सूरंग खोदने के बाद भाग गए थे। जगतार तारा को जनवरी 2015 में थाईलैंड से पकड़ लिया गया था और उसकी गिरफ्तारी के बाद बुड़ेल जेल के अंदर परीक्षण चल रहा है।

यह भी पढ़ेंः लुधियाना में होजरी फैक्टरी में लगी भीषण आग

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!