मुंबई, एएनआइ। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने महाराष्ट्र के पालघर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना की निंदा करते हुए कहा कि पालघर में उस दिन जो कुछ भी हुआ वह नहीं होना चाहिये था। पवार ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण और  निंदनीय बताया। उन्‍होंने कहा कि पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए एक ही रात में इस घटना के दोषी 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर लिया है। 

 शरद पवार का कहना था कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जो कुछ भी कर सकते हैं, वह कर रहे हैं। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो राज्‍य की कानून व्‍यवस्‍था पर सवाल दाग रहे हैं, जबकि एक अफवाह के कारण ये घटना हुई, ऐसी घटना का होना किसी भी तरह से ठीक नहीं है। बता दें कि इस घटना को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बात भी की थी। जिसे लेकर राज्‍य सरकार से घटना की रिपोर्ट भी मांगी गयी थी। 

जानें पूरा मामला 

पालघर में 16 अप्रैल की रात को सैकड़ों की भीड़ ने तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। घटना के शिकार हुए साधु सुशील गिरि महाराज (30) एवं चिकने महाराज कल्पवृक्ष गिरि (70) जूना अखाड़ा से संबंधित थे, तीसरा व्‍यक्ति कार चालक था। ये लोग कार से किसी की अंत्येष्टि में शामिल होने सूरत जा रहे थे। भीड़ ने पुलिस के सामने ही इन तीनों की पीट-पीट कर हत्या कर दी। बताया जा रहा है की बच्‍चा चोर गिरोह अफवाह के चलते इनकी हत्‍या हुई। इस घटना की जांच अभी चल रही है पुलिस ने इस मामले में 100 से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

 LIVE Coronavirus Maharashtra: महाराष्ट्र में और बढ़ा कोरोना संक्रमितों का आंकडा, 232 की हुई मौत

Coronavirus Test: मुंबई में कोरोना जांच के लिए शुरु हुआ COVID-19 ड्राइव-थ्रू कलेक्शन प्वाइंट

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस