राज्य ब्यूरो, मुंबई। कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ चुकी सिने अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर को कश्मीर में रह रहे अपने सास-ससुर की चिंता सताने लगी है। इसका जिक्र उन्होंने गुरुवार को नांदेड़ में कांग्रेस की एक सभा में किया।

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चह्वाण के गृह जनपद नांदेड़ में आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए उर्मिला मातोंडकर ने कहा कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद कश्मीर के लोगों के जीवन में सुधार होगा, वहां विकास होगा, यह अच्छी बात है, लेकिन सरकार का तरीका ठीक नहीं है। इस दौरान महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चह्वाण भी मंच पर मौजूद थे।

सास-ससुर से नहीं हो पा रही बात
उर्मिला ने आगे कहा कि प्रश्न केवल अनुच्छेद 370 हटाने का नहीं है, बल्कि इसे हटाने के तरीके का भी है। उर्मिला ने इसे अमानवीय करार देते हुए कहा, 'मेरे सास-ससुर कश्मीर में रहते हैं। दोनों डायबिटीज और उच्च रक्तचाप के मरीज हैं। आज 22वां दिन है। मेरी और मेरे पति की उनसे बात नहीं हो पा रही है। उन्हें जिन दवाओं की जरूरत होती है, जो इंजेक्शन चाहिए, वो उनके पास हैं कि नहीं, इसकी हमें कोई जानकारी नहीं हो पा रही है।'

कांग्रेस से चुनाव लड़ चुकी हैं उर्मिला मातोंडकर
बता दें कि उर्मिला मातोंडकर ने कश्मीर मूल के मोहसिन अख्तर मीर से विवाह किया है। वह गत लोकसभा चुनाव उत्तर मुंबई से कांग्रेस के टिकट पर लड़ चुकी हैं, जिसमें उन्हें भाजपा उम्मीदवार गोपाल शेट्टी के सामने करारी हार का मुंह देखना पड़ा था। चुनाव से पहले उन्होंने क्षेत्र की जनता से वादा किया था कि वह जीतें या हारें, राजनीति छोड़ने वाली नहीं हैं। माना जा रहा है कि अब कांग्रेस विधानसभा चुनाव में भी हिंदी-मराठी में धाराप्रवाह बोलने वाली इस अभिनेत्री का भरपूर उपयोग करेगी।

इसे भी पढ़ें: Article 370: कश्मीर में कुछ इस तरह खोली जा रहीं दुकानें, जानें- क्या है Lal Chowk के बाजार का हाल

इसे भी पढ़ें: कभी-कभी 70-80 की उम्र में लोग बच्चों की तरह कर जाते हैं बयानबाजी- जानिए किसने कही ये बातें

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस