नई दिल्ली, एजेंसी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी के बेटे अनिल एंटनी ने बुधवार सुबह पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया। इसको लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। भाजपा प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा कि देश की संप्रभुता और अखंडता के लिए सोचने वाले अब वहां नहीं रह सकते। बता दें कि बीबीसी की विवादित डॉक्युमेंट्री का विरोध कर अनिल एंटनी ने कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है।

कांग्रेस चमचों का दरबार

अनिल एंटनी ने कांग्रेस में चाटुकारिता के आरोप लगाए हैं। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि देश की संप्रभुता और अखंडता के लिए सोचने वाले स्वाभिमानी व्यक्ति अब कांग्रेस में नहीं रह सकते। यह 'मोहब्बत की दुकान' नहीं, बल्कि 'चमचों का दरबार' है, जो कांग्रेस पर हावी है। उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान, चीन और प्रचारकों के लिए बोलना ही कांग्रेस में बने रहने की कसौटी है।

बीबीसी की डॉक्युमेंट्री का विरोध

बता दें कि अनिल एंटनी ने बीबीसी की डॉक्युमेंट्री को लेकर हो रहे विवाद पर भाजपा का साथ दिया था। अनिल ने कहा था कि जो लोग ब्रिटिश प्रसारक और ब्रिटेन के पूर्व विदेश सचिव जैक स्ट्रा के विचारों का समर्थन करते हैं और उन्हें जगह देते हैं, वे भारतीय संस्थानों पर एक खतरनाक मिसाल कायम कर रहे हैं, क्योंकि 2003 के इराक युद्ध के पीछे जैक स्ट्रा का दिमाग था। उन्होंने कहा कि भाजपा के साथ बड़े मतभेद के बावजूद, मुझे लगता है कि यह हमारी संप्रभुता को कमजोर करेगा।

अनिल एंटनी को मिली धमकियां!

अनिल एंटनी ने बुधवार को ये कहते हुए कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था कि उन पर अपना ट्वीट हटाने को लेकर दबाव बनाया जा रहा था। मैंने उनकी मांगों को नहीं माना और इस्तीफा दे दिया। अनिल ने कहा कि मुझे रात से धमकी भरे कॉल और नफरत वाले संदेश मिल रहे हैं। पिछले 24 घंटों में बहुत कुछ हुआ, खासकर कांग्रेस के कुछ हिस्सों से। इन सबसे मैं बहुत आहत हुआ हूं।

ये भी पढ़ें:

"मुझे रात से धमकियां मिल रही हैं" BBC डॉक्युमेंट्री विवाद पर कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद बोले अनिल एंटनी

BBC Documentary Row: एके एंटनी के बेटे अनिल ने छोड़ी कांग्रेस, बीबीसी की डॉक्युमेंट्री में दिया था BJP का साथ

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट