संबलपुर, जेएनएन। मोबाइल फोन से छेड़खानी करना एक बालक को महंगा पड़ गया। मोबाइल की बैटरी फट जाने से बालक के दाहिने हाथ की हथेली उड़ने के साथ घायल हो गया है। उसे गंभीर हालत में रविवार की रात को बुर्ला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह घटना रविवार को बलांगीर जिला के ल़ोर्ईंसघा थाना अंतर्गत कंदाजुरी गांव में घटी। गांव के सुशील तांडी का आठ वर्षीय पुत्र आदर्श तांडी रविवार को अपने पिता का मोबाइल फोन लेकर गेम खेल रहा था। तभी अचानक मोबाइल में विस्फोट हुआ और आदर्श के दाहिने हाथ की हथेली उड़ने के साथ उसकी जांघ भी जख्म हो गया। आदर्श को तुरंत इलाज के लिए ल़ोर्ईंसघा अस्पताल ले जाया गया। यहां प्राथमिक इलाज के बाद उसे बेहतर इलाज के लिए बुर्ला अस्पताल स्थानांतरित किया गया। आदर्श गांव के स्कूल में तीसरी कक्षा का छात्र बताया गया है। 

गौरतलब है कि ओडिशा में पहले भी मोबाइल फोन के फटने से युवक की मौत की खबर आयी थी, ये घटना जगतसिंहपुर जिले की थी। मृतक कुना एक श्रमिक का कार्य करता था, घटना उस समय हुई जब रात के समय वह मोबाइल को चार्र्जिंग पर लगाकर सो रहा था, अचानक मोबाइल फट गया, घटना रात को कब हुई इसका पता नही चल पाया। इस बात की जानकारी तब हुई जब साथ में सो रहे और मजदूरों की नींद खुली उन्होंने कुना के कमरे से धुंआ निकलते हुए देखा , अंदर जाकर देखा तो कुना का चेहरा और अन्य अंग जल गये थे और उसकी मौत हो गई थी। मजदूरों ने इस घटना की  सूचना तुरंत पुलिस को दी। 

क्या है मोबाइल विस्फोट की वजह

आज हर व्यक्ति मोबाइल का प्रयोग कर रहा है ऐसे में बाजार में असली के साथ-साथ नकली चार्जर और बैटरी भी धड़ल्ले से बिक रहे हैं जो कम दामों में ही उपलब्ध हो जाते हैं। लेकिन इनकी क्वालिटी काफी खराब होती है जिससे मोबाइल के खराब होने की आशंका बढ़ जाती है और कई बार मोबाइल फट भी जाता है।

इन बातों का रखें ध्यान 

-अपने मोबाइल फोन को चार्जिंग पर लगाते समय अपने से दूर रखें और इस बात का भी हमेशा ध्यान रखें की वहां पर किसी प्रकार का कोई कपड़ा न हो। 

- फोन की बैटरी बदलवानी हो तो हमेशा ऑरिजनल ही खरीदें। सस्ती बैटरी के चक्कर में न पड़ें। 

-मोबाइल प्रयोग करते समय अगर गरम हो रहा है तो उसका इस्तेमाल न करें, नॉर्मल होने पर ही प्रयोग में लायें। 

- मोबाइल को कभी भी अपने तकिये के नीचे न लेकर सोये इससे डिवाइस का तापमान तो बढ़ता ही है, साथ ही डिवाइस पर दबाव भी पड़ता है। देर रात को वॉट्सऐप चेक करने के की वजह से अक्सर लोग इसे तकिए के नीचे रखकर सो जाते हैं जो कभी भी जानलेवा साबित हो सकता है। 

 अमेजन व फ्लिपकार्ट के खिलाफ प्रदर्शन, 40 करोड़ लोगों की रोजी रोटी खतरे में

 बच्चों को 10 मिनट में बेड टच और गुड टच के प्रति जागरुक करेगी कोमल

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस