भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। नक्सल प्रभावित 5 जिलों को सुरक्षा संबन्धित खर्च (Security Related Expenditure) जिला सूची से अलग रखे जाने की जानकारी पुलिस महानिदेशक अभय ने ट्वीट कर दी है। इसके लिए राज्य सरकार का अनुमोदन मिलने की जानकारी भी उन्होंने दी है। वर्तमान, राज्य सरकार ने पांच जिला जैसे कि अनुगुल, बौद्ध, सम्बलपुर, देवगड़ एवं नयागड़ को एसआरइ योजना से अलग रखने के लिए अनुमोदन किया है। 

 इन जिलों में सुरक्षा स्थिति में सुधार लाने के बाद कदम उठाए जाने की जानकारी पुलिस महानिदेशक अभय ने दी है। इससे पहले 2018 अप्रैल महीने में जाजपुर, ढेंकानाल, केन्दुझर, मयूरभंज, गजपति एवं गंजाम को माओवादी कार्यकलाप से मुक्त घोषित किया गया था एवं इन जिलों को केन्द्र सरकार की इन योजनाओं से वंचित रखा गया गया था। इससे वर्तमान समय तक राज्य में 11 जिला नक्सल प्रभाव से मुक्त हो गये हैं।

 गौरतलब है कि सुरक्षा सम्बन्धित खर्च (एसआरइ) योजना, माओवादी प्रभावित जिलों में कौशल विकास की एक योजना है। 2012 में राज्य के 19 जिला एसआइ जिला के तौर पर घोषित हुए थे। हालांकि सख्त सुरक्षा व्यवस्था तथा विकास से जुड़ी योजनाओं के कारण पिछले कुछ सालों में राज्य में बड़ा परिवर्तन आया है।

Coronavirus Lockdown: औरंगाबाद में लागू हुआ 'जनता कर्फ्यू', सड़कों पर पसरा सन्‍नाटा

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस