दमिश्क (रॉयटर)। सीरिया के शहर अलेप्पाेे में विद्रोहियों द्वारा मार गिराए गए हेलीकॉप्टर के मलबे से निकली जहरीली गैस से वहां के कई लोगों ने सांस लेेने में दिक्कत होने की शिकायत की है। इनमें से अधिकतर महिलाएं हैं।

विद्रोहियों द्वार इस हेलीकॉप्टर को कल इदलिब इलाके में मार गिराया गया था। इसमें दो पायलटों समेत पांच रूसी जवानों की मौत हो गई थी। एक वीडियो फुटेज में इस जलते हेलीकॉप्टर के पास मौजूद लोग इसका जश्न मनाते हुए दिखाए गए थे। साथ ही यहां मौजूद कई लोग रूसी जवानों के साथ बड़ी बेरहमी से पेश आते हुए भी दिखाई दे रहे थे।

यूट्यूब पर जारी किए गए एक वीडियो में कुछ लोगों को सांस लेने में परेशानी होते हुए दिखाया गया है। यह वीडियो रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे वोलेंटियर्स द्वारा यूट्यूब पर डाला गया है। वीडियाेे में यह सिविल डिफेंस के यह वोलेंटियर्स इन लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर देते हुए भी दिखाई दे रहे हैं। इन वोलेंटियर्स का कहना है कि पहले उन्हें लगा था कि यह क्लोरिन गैस का रिसाव हैै, लेकिन अभी तक इस गैस की पहचान नहीं हो सकी है।

भारतीयों की मदद के लिए वीके सिंह जेद्दा रवाना, जमीनी हालात का लेंगे जायजा

सउदी अरब में फंसे भारतीयों को सुरक्षित वापस लाया जाएगा: सुषमा

सुनो पुतिन! हम तुम्हारे ही घर में तुम्हें मारने आ रहे हैं

Posted By: Kamal Verma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप