कुआलालंपुर। मलेशिया ने रविवार को लापता विमान एमएच 370 की नए सिरे से तलाश शुरू करने के प्रति प्रतिबद्धता जाहिर की है। विमान को लापता हुए 100 दिन हो चुके हैं। इस बीच न्यूजीलैंड के दो लेखकों ने अपनी किताब में दावा किया कि विमान को जानबूझकर और पूर्व निर्धारित योजना के तहत गायब किया गया है। किताब अभी रिलीज नहीं हुई है।

विमान में सवार यात्रियों और चालक दल के सदस्यों के रिश्तेदारों को आश्वस्त करते हुए प्रधानमंत्री नजीब रज्जाक ने ट्विटर पर विमान को ढूंढ निकालने की सरकारी की प्रतिबद्धता को दोहरायी। कार्यवाहक परिवहन मंत्री हिसमुद्दीन हुसैन ने कहा, 'एमएच 370 को लापता हुए 100 दिन से अधिक हो गए हैं। विमान की खोज में मलेशियाई सरकार द्वारा समन्वित खोज अभियान चलाए 14 सप्ताह हो गए। इस अभियान में 26 देश शामिल थे। अब जबकि यह खोज अभियान चुनौतीपूर्ण हो चुका है। हम लापता विमान को खोज निकालने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हैं।'

इस बीच न्यूजीलैंड के दो लेखकों पेशे से पायलट इवान विल्सन और पत्रकार जेफ टेलर ने अपनी किताब 'गुड नाइट मलेशिया 370 : द टुथ बिहाइंड द लॉस ऑफ फ्लाइट 370' में दावा किया कि यह हादसा कोई दुर्घटना नहीं थी। उन्होंने एमएच 370 के गायब होने के पूरे क्रम का अध्ययन किया। 'स्टफ' अखबार की वेबसाइट ने टेलर के हवाले से रिपोर्ट में छापा, 'यह एक सोची समझी, पूर्व नियोजित साजिश के तहत हुआ है। हमने पहली बार इस उड़ान का विस्तृत विश्लेषण पेश किया है।'

पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया को एमएच370 के हिंद महासागर में होने का भरोसा

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप