न्यूयॉर्क, एएफपी। दुनिया की नंबर एक टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स और उनकी बड़ी बहन वीनस ने यूएस ओपन में शानदार जीत के साथ दूसरे दौर में प्रवेश किया। सेरेना ने दुनिया की 29वें नंबर की खिलाड़ी रूस की एकाटेरिना मकारोवा को एकतरफा मुकाबले में 6-3, 6-3 से हराया।

पिछले कुछ समय से बायें कंधे को लेकर परेशान रही सेरेना बिल्कुल भी दिक्कत में नहीं लगी। अमेरिकी खिलाड़ी ने 63 मिनट के मुकाबले में एक दर्जन ऐस लगाने के अलावा 27 विनर भी लगाए। सेरेना के पास यहां कीर्तिमान रचने का मौका है। वह अगर यहां खिताब जीत जाती हैं तो ओपन युग में सर्वाधिक 22 सिंगल्स ग्रैंडस्लैम खिताब का रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगी। अभी उनके जर्मनी की स्टेफी ग्राफ के बराबर 21 खिताब हैं। सर्वकालिक रिकॉर्ड मारग्रेट कोर्ट के नाम है, जिन्होंने 24 मेजर खिताब जीते। यही नहीं 34 वर्षीय सेरेना अगर यहां खिताब जीतती हैं तो वह ग्राफ के रिकॉर्ड 186 हफ्ते तक विश्व रैंकिंग में लगातार नंबर एक पर रहने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लेंगी। साथ ही वह क्रिस एवर्ट का ओपन ईरा में सर्वाधिक यूएस ओपन खिताब जीतने का रिकॉर्ड भी बना देंगी। क्रिस ने छह बार यह खिताब जीता है, जबकि सेरेना की यह सातवीं ट्रॉफी होगी। सेरेना पिछले कुछ समय से खिताब जीतने के लिए जूझ रही हैं।

वीनस ने भी रिकॉर्ड 72वीं बार किसी मेजर टूर्नामेंट के मुख्य ड्रॉ में खेलते हुए यूक्रेन की कैटरीना कोजलोवा को 6-2, 5-7, 6-4 से हराया। 36 वर्षीय वीनस ने 22 वर्षीय खिलाड़ी के खिलाफ 63 सहज गलतियां कीं, लेकिन इसके बावजूद जीत दर्ज करने में सफल रहीं। उन्होंने हालांकि 46 विनर भी लगाए।

अन्य मैचों में पोलैंड की चौथी वरीय एग्निएस्का रदवांस्का ने अमेरिकी क्वालीफायर जेसिका पेगुला को 6-1, 6-1 से, 11वीं वरीय कार्ला सुआरेज नवारो ने ब्राजील की टेलिना पेरिया को आसानी से 6-0, 6-0 से, पांचवीं वरीय रोमानिया की सिमोना हालेप ने बेल्जियम की क्रिस्टेन फ्लिपकेंस को 6-0, 6-2 से, नीदरलैंड्स की रिसेल ने ऑस्ट्रेलिया की हीथर वॉटसन को 6-2, 7-5 से मात दी।

इवानोविक व बुचार्ड उलटफेर की शिकार

सर्बिया की एना इवानोविक पहले ही दौर में उलटफेर का शिकार हो गई। इवानोविक को चेक गणराज्य की डेनिसा एलरटोवा के हाथों 6-7, 1-6 से शिकस्त का सामना करना पड़ा। दुनिया की पांचवें नंबर की कनाडा की एग्युनी बुचार्ड 72वें नंबर की चेक गणराज्य की कैटरीना सिनियाकोवा के हाथों 3-6, 6-3, 2-6 से हारकर बाहर हो गई।

मरे ने रिकॉर्ड की ओर बढ़ाया कदम

पुरुष वर्ग में विंबलडन चैंपियन एंडी मरे ने ऑल इंग्लैंड क्लब में अपना दूसरा खिताब जीतने के बाद रियो ओलंपिक में अपने खिताब का बचाव भी किया। ओपन युग में एक ही कैलेंडर वर्ष में चारों ग्रैंडस्लैम के फाइनल में जगह बनाने वाला चौथा पुरुष खिलाड़ी बनने के लिए चुनौती पेश कर रहे मरे ने एकतरफा मुकाबले में चेक गणराज्य के लुकास रोसोल को 6-3, 6-2, 6-2 से हराया। दो बार के सेमीफाइनलिस्ट तीसरे वरीय स्विट्जरलैंड के स्टेन वावरिंका ने स्पेन के फर्नाडो वर्दास्को को 7-6, 6-4, 6-4 से हराया। 2014 में न्यूयॉर्क में फाइनल में जगह बनाने वाले एशिया के पहले पुरुष खिलाड़ी बने जापान के केई निशिकोरी जर्मनी के बेंजामिन बेकर को 6-1, 6-1, 3-6, 6-3 से हराकर दूसरे दौर में पहंुचे। आठवें वरीय ऑस्टि्रया के डोमीनिक थियाम ने पांच सेट में ऑस्ट्रेलिया के जॉन मिलमैन को 6-3, 2-6, 5-7, 6-4, 6-3 से, जबकि 2009 के चैंपियन जुआन मार्टिन डेल पोत्रो ने अर्जेटीना के हमवतन डिएगो स्वा‌र्ट्जमैन को 6-4, 6-4, 7-6 से शिकस्त दी।

इवो ने 61 ऐस लगा बनाया रिकॉर्ड

क्रोएशिया के इवो कार्लोविक ने ताइवान के लू येन सुन के खिलाफ पहले दौर के मुकाबले के दौरान 61 ऐस लगाए जोकि टूर्नामेंट का रिकॉर्ड है। 37 वर्षीय कार्लोविक ने सुन को पांच सेट के मैराथन मुकाबले में 4-6, 7-6, 6-7, 7-6, 7-5 से मात दी। उन्होंने नीदरलैंड्स के रिचर्ड क्राइसेक का 1999 में बनाया गया रिकॉर्ड तोड़ा, जिन्होंने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में 49 ऐस लगाए थे। कार्लोविक ने दस ऐस अंतिम सेट में लगाए।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

क्रिकेट से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप