मुंबई। शिवसेना ने ललित मोदी से मुलाकात को लेकर बवाल के बीच मुंबई पुलिस आयुक्त राकेश मारिया का बचाव किया है। वहीं, केंद्र सरकार और भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा है कि यदि सुषमा-राजे का बचाव किया जा रहा है तो मारिया को सूली पर लटकाने की तैयारी क्यों।

शिवसेना के मुखपत्र सामना के संपादकीय में कहा गया है कि राकेश मारिया लंदन में एक प्रेस कांफ्रेंस में हिस्सा लेने गए हुए थे। उस समय मोदी ने अपनी कैफियत पेश करने के लिए मारिया से मुलाकात की। ब्रिटेन एक स्वतंत्र देश है और ललित मोदी उस देश की अनुमति से ही लंदन में रह रहे हैं। मोदी ने आइपीएल में चाहे जो करामातें की हों, उस पर विवाद खड़ा होना स्वाभाविक है लेकिन मोदी को लंदन से बेडि़यां पहनाकर भारत लाने का अधिकार मुंबई पुलिस आयुक्त के पास नहीं है।

संपादकीय में कहा गया है कि विदेशों में अधिकारियों, मंत्रियों, नेताओं से कौन कब तस्वीर खिंचा लेगा इसका कोई ठिकाना नहीं है। ललित मोदी किसी जमाने में आइपीएल क्रिकेट का बादशाह हुआ करते थे। देश के चोटी के राजनेताओं के साथ उनकी तस्वीरें सार्वजनिक हैं। क्या अब उन सारे नेताओं के खिलाफ कार्रवाई होगी।

ललित मोदी मारिया से मिले और मारिया ने उन्हें मुंबई आकर कानूनी कार्रवाई का सामना करने की सलाह दी। मारिया ने मुंबई लौटने के बाद इस मुलाकात की जानकारी राज्य के तत्कालीन गृहमंत्री को दी। एक सरकारी अधिकारी इसके अलावा और क्या कर सकता है।

लेख में मारिया का बचाव करते हुए कहा गया है कि मुंबई पुलिस कमिश्नर के रूप में मारिया ने बेजोड़ काम किया है, यह कैसे भुला दिया जाएगा। उन्होंने गैंगवार को ध्वस्त किया, गुंडागर्दी पर लगाम लगाई, आतंकी घटनाओं को नाकाम किया। 26/11 के आतंकी हमले की जांच में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा। इस सबके बावजूद ललित मोदी से मुलाकात पर हंगामा खड़ा करना, राई को पर्वत बनाने जैसा है।

शिवसेना ने केंद्र सरकार और भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि ललित मोदी मामले में सुषमा स्वराज और वसुंधरा राजे का बचाव किया जा रहा है। लेकिन राकेश मारिया को क्यों बिना जांच के फांसी पर लटकाने की तैयारी हो रही है। मोदी मामले का सत्य क्या है, आज कोई नहीं बता सकता। मोदी के नाम पर एक-दूसरे का थोबड़ा रंगने का मामला खेदपूर्ण है। देश के सामने कई समस्याएं मुंह बाए खड़ी है, हमें उस पर ध्यान देने की जरूरत है।

पढ़ें : 'मारिया को फिलहाल क्लिनचिट नहीं'

पढ़ें : भाजपा सांसद ने सुषमा-ललित विवाद में डाला घी

Edited By: Sanjay Bhardwaj

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट