जागरण संवाददाता, जमशेदपुर। 'चंद्रशेखरन समूह के भीतर के आदमी हैं। वह बिल्कुल बेदाग हैं। टाटा स्टील समेत समूचा टाटा समूह अब सुरक्षित हाथों में है। उन्हें भी हमारी तरह सहयोग मिलेगा।' टाटा समूह के मानद चेयरमैन रतन टाटा ने संस्थापक दिवस के मौके पर यह बात कही। उन्होंने समूह के नए चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन से शुक्रवार को शहरवासियों से रूबरू कराया।

चंद्रा के नाम से मशहूर चंद्रशेखरन बीते माह ही समूह की होल्डिंग कंपनी टाटा संस के चेयरमैन का पदभार संभाला है। इससे पहले वह देश की दिग्गज कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के एमडी व सीईओ थे। अपने कार्यकाल में उन्होंने टीसीएस को बुलंदियों पर पहुंचाया। चंद्रा टाटा संस के पहले गैर-पारसी चेयरमैन हैं।

टाटा ने शहरवासियों को संबोधित करते हुए ने जमशेदपुर से अपने लगाव को साझा किया। रतन ने कहा कि उन्होंने अपने जीवन के छह अहम साल जमशेदपुर में बिताए हैं। इसलिए जब भी वह इस शहर में आते हैं, कुछ अलग महसूस करते हैं। जमशेदपुर लगातार प्रगति कर रहा है। संस्थापक जमशेतजी नुसरवानजी टाटा जो विरासत छोड़कर गए हैं, उसका अनुसरण करते हुए हम जमशेदपुर और कंपनी को और आगे लेकर जाएंगे। जमशेदपुर एक स्वच्छ और प्रगतिशील शहर है। अन्य शहरों की तुलना में यहां अपराध का ग्राफ भी कम है। इस शहर को बचाए रखना सभी की जिम्मेदारी है। इससे पूर्व उन्होंने जमशेदपुर व‌र्क्स में संस्थापक जेएन टाटा को पुष्प अर्पित कर नमन किया।

समूह को नई ऊंचाई पर ले जाएंगे : चंद्रा

जमशेदपुर : टाटा संस के नए चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन ने भरोसा दिलाया है कि वह समूह और जमशेदपुर दोनों को ही नई ऊंचाई पर ले जाएंगे। चंद्रा ने टाटा समूह और शहर के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि वह करीब डेढ़ दिन से यहां हैं। यहां का जीवन स्तर स्मार्ट सिटी जैसा है। कंपनी की प्रगति और शहर एक दूसरे के पूरक हैं। यह शहर संस्थापक स्वर्गीय जेएन टाटा के सपने के अनुसार ही बढ़ रहा है। सड़क, नागरिक सुविधाएं और हरियाली बेहतरीन हैं। वह इस शहर में अब बार-बार आना चाहेंगे।

टाटा समूह का चेयरमैन बनने को गौरवपूर्ण बताते हुए चंद्रा ने कहा कि संस्थापक की प्रेरणा और सब लोगों के सहयोग से यह जिम्मेदारी निभाने में जरूर सफलता मिलेगी। इस शहर के लोगों और कंपनी के बीच एक अटूट संबंध देखने को मिल रहा है। कंपनी और शहरवासियों के बीच का यह रिश्ता अपने आप में अनोखी मिसाल पेश कर रहा है।

यह भी पढ़ें: मृत मिला सैनिकों की परेशानियां उजागर करने वाला जवान

Posted By: Mohit Tanwar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप