मुंबई। राकेश मारिया ने बुधवार को कहा है कि मैं इस्तीफा नहीं दूंगा, मेरे इस्तीफे की अटकलें गलत हैं। महाराष्ट्र सरकार ने शीना बोरा हत्याकांड की जांच में जुटे मुंबई के पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया को तत्काल प्रभाव से पदोन्नत कर स्थानांतरित कर दिया। उनकी जगह जावेद अहमद को नया कमिश्नर बना दिया गया।

एक अंग्रेजी वेबसाइट के मुताबिक, आमतौर पर मारिया किसी भी मसले पर सार्वजनिक तौर पर टिप्पणी नहीं करते हैं, लेकिन ट्रांसफर की खबर सुनकर उनका चेहरा सबकुछ कह रहा था।

मारिया की पदोन्नति 30 सितंबर को तय थी, लेकिन उन्हें 22 दिन पूर्व ही तुरंत प्रमोशन व ट्रांसफर की "सौगात" देकर डीजी होमगार्ड नियुक्त किया गया है। अहमद ने तत्काल नया पदभार भी संभाल लिया।

गणपति की तैयारी बताई वजहमहाराष्ट्र के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) केपी बख्शी ने बताया कि मारिया के यकायक प्रमोशन व ट्रांसफर इसलिए किया गया कि आगामी गणपति महोत्सव व बकरीद के दौरान कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए अहमद को वक्त मिल सके। बख्शी ने इसे शीना हत्याकांड की जांच से जोड़ने को अनुचित बताया।

मुंबई के पुलिस कमिश्नर के पद को अपग्रेड कर महानिदेशक स्तर का बनाया गया है। इसीलिए डीजी होमगार्ड अहमद को यह पद और मारिया को डीजी होमगार्ड का पद दिया जा सका। दोनों 1981 बैच के आईपीएस अफसर हैं। शीना कांड की जांच का क्या होगा, यह पूछने पर बख्शी ने कहा कि पुलिस के लिए सभी जांच महत्वपूर्ण होती है न सिर्फ इसी केस की।

जानकार सूत्र मानते हैं कि इस हाई प्रोफाइल शीना मर्डर केस के तार ब्लैक मनी और हवाला से जुड़ी बड़ी मछलियों तक है। इस मामले में मारिया की गहरी रुचि के कारण उन्हें हटाया गया है।

मारिया को प्रमोशन, शीना केस की जांच मारिया ही करेंगे

Posted By: Shashi Bhushan Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप